विशेष दर्जा मामले पर दो खेमे में बंट गयी भाजपा

बिहार को विशेष पैकेज देने के मामले में भारतीय जनता पार्टी दो खेमे में बंट गयी है.बिहार भाजपा के दो कद्दावर नेताओं के सुर इस मामले में बिल्कुल अलग-अलग सामने आये हैं.

मोदी व मंगल:फोटो पलपल इंडिया

मोदी व मंगल:फोटो पलपल इंडिया

नौकरशाही डेस्क

ऐसे में सवाल यह है कि भाजपा के नेता इस मामले में क्यों बंट गये हैं? क्या विशेष राज्य के दर्जा का मुद्दा खुद भाजपा के गले का फंदा बनता जा रहा है? दर असल 20 अक्टूबर को जनता दल यू ने राज्य के तमाम मुख्यालयों में विशेष राज्य देने की मांग को लेकर धरना दिया था. पटना में इस धरने का नेतृत्व पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया. नीतीश ने इस अवसर पर केंद्र की मोदी सरकार पर जम कर प्रहार किया और कहा कि केंद्र सरकार सत्ता में आते ही बिहार के साथ वादाखिलाफी कर रही है. इसी दिन भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने स्पष्ट कहा कि 2015 में बिहार में चुनाव के बाद सत्ता में आने के बाद ही बिहार को विशेष पैकेज दिया जायेगा.

लेकिन सुशील मोदी के इस बयान के बाद जहां जद यू ने इस बयान की आलोचना की वहीं मंगलवार को खुद उन्हीं की पार्टी की ओर से मोदी की बातों के उलट एक बयान आया. गौरतलब है कि यह बयान भाजपा के किसी गैरजिम्मेदार नेता ने नहीं बल्कि खुद पार्टी के प्रेदेश अद्यक्ष मंगल पांडेय ने दिया. मंगला पांडे ने हाजीपुर में कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार बिहार को विसेष पैकेज देगी. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को इस मामले में नाटक करने की जरूरत नहीं है. पांडे बिहार बनाओ, बिहार बचाओ कार्यक्रम में हिस्सा लेने के दौरान ये बातें कहीं.

गले का फंदा न बन जाये

बिहार भाजपा के दो दिग्गज नेताओं के बोल इस मामले में अलग-अलग सामने आने से यह साफ हो गया है कि भाजपा के अंदर इस मामले में एका नहीं है. असल में भाजपा इस मामले में एक तरह से घिरती जा रही है और लगता है कि इसी लिए वह कोई एक स्टैंड तय नहीं कर पा रही है. क्योंकि भाजपा के नेताओं को पता है कि केंद्र में मनमोहन सरकार के दौरान बिहार भाजपा खुद विशेष दर्जे की मांग कर चुकी है.

भाजपा के नेताओं के ऐसे बयानों पर वरिष्ठ पत्रकार नवीन जोशी का मानना है कि भाजपा पहले ही विशेष राज्य के दर्जे की हिमायती रही है और वह खुद इस मांग को दोहरा चुकी है. ऐसे में अब इस मामले पर भाजपा घिरती जा रही है.

इस मामले में जनता दल यू के नेता नवल शर्मा का कहना है कि बिहार भाजपा के नेता जनता को दिग्भ्रमित करने में लगे हैं. लेकिन वे मुगालते में हैं. बिहार की जनता को याद है कि नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव की रैलियों में वादा किया था कि केंद्र में सरकार बनते ही बिहार को स्पेशल पैकेज दिया जायेगा. नवल शर्मा ने कहा कि नरेंद्र मोदी का यह बयान बिहार भाजपा के गले का फंदा बन गया है. इसलिए भाजपा नेता अलग-अलग बयान देने लगे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*