शराबबंदी से बापू का दूसरा सपना साकार हुआ

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी को लेकर कहा कि उनकी सरकार ने बापू के दूसरे सबसे बड़े सपने को साकार किया है। बिहार ने शराबबंदी को लागू कर पूरी दुनिया को एक सामाजिक परिवर्तन का नया मैसेज दिया है। उन्होंने कहा कि कानून के लागू होने के बाद सामाजिक परिवर्तन की एक नींव पड़ गयी है। एक मजबूत बुनियाद पड़ गयी है। नीतीश कुमार ने कहा कि कानून अपना काम करेगा और शराब पीने के साथ पिलाने वालों की हर साजिश को नाकाम कर दिया जायेगा।nitish

 

नीतीश कुमार ने बिहार सरकार द्वारा बनायी गयी नयी उत्पाद नीति के बारे में बोलते हुए कहा कि शराबबंदी को लेकर बिहार सरकार ने सख्त कानून बनाया है। इस कानून को सख्ती से लागू भी किया जायेगा। उन्होंने कहा कि कानून बनाकर संविधान के निर्देशों का पालन किया गया है। राज्य की यह पूर्ण जिम्मेदारी बनती है कि शराब की बिक्री ना हो।

 

सीएम ने कहा कि शराबबंदी में महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान है। इस अभियान में महिलाओं ने अहम भूमिका निभाई है। राज्य सरकार ने महिलाओं और आम लोगों के हितों को ध्यान में रखकर ही कठोर और ऐतिहासिक फैसला लिया है। इसकी तैयारी 5 वर्षों से हो रही थी। नीतीश कुमार के साथ जीविका के कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने भी महिलाओं के सहयोग से शराबबंदी सफल  होने की बात कही। नीतीश कुमार ने शराबबंदी कानून का विरोध करने वालों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कुछ लोग ताड़ी बेचने वाले समाज के लोगों की आड़ में साजिश कर रहे हैं। अगले साल से उनकी आमदनी बढ़ जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि ताड़ी नहीं ताड़ के पेड़ का सुबह का नीर बोतल में बंद कर बेचा जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*