शहाबुद्दीन और राजवल्‍लभ के बाद अब रॉकी यादव की जमानत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी नीतीश सरकार

बिहार सरकार गया के व्यवसायी पुत्र आदित्य सचदेवा हत्याकांड के मामले में आरोपी विधान पार्षद मनोरमा देवी के पुत्र राकेश रंजन उर्फ रॉकी यादव को पटना उच्च न्यायालय से मिली जमानत को रद्द कराने के लिए उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटायेगी ।  गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी ने बताया कि पटना उच्च न्यायालय से आरोपी रॉकी यादव को मिली जमानत के खिलाफ बिहार सरकार शीघ्र ही उच्चतम न्यायालय में अपील करेगी । इसके लिए राज्य सरकार तैयारी कर रही है । rocy

 

 

उल्लेखनीय है कि सात मई की रात व्यवसायी पुत्र आदित्य सचदेवा जब बोध गया से अपने वाहन से घर लौट रहे थे तभी एक लैंडरोवर गाड़ी को ओवरटेक करने के दौरान मारपीट हुई थी । लैंडरोवर वाहन पर विधान पार्षद के पुत्र रॉकी तथा विधान पार्षद के सरकारी अंगरक्षक सवार थे । मारपीट के दौरान ही गोली चली जिससे आदित्य की मौत हो गयी थी।  आरोपी रॉकी यादव को पटना उच्च न्यायालय से जमानत मिलने के बाद आदित्य सचदेवा के घर पर सन्नाटा पसरा हुआ है और पूरा परिवार डरा एवं सहमा हुआ है । आदित्य की मां चंदा सचदेवा परेशान हैं और रह-रह कर फूट-फूट कर रो रही है ।

 
आदित्य की मां ने रोते हुए कहा कि उनके पुत्र की हत्या के ठीक एक माह बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार घर पर आये थे और यह कहा था कि इस मामले को सरकार पूरी गंभीरता से लेगी । उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि अब क्या हुआ । आरोपी को सजा मिलने की सारी उम्मीदे समाप्त हो गयी ।  चंदा सचदेवा ने कहा कि उनके पुत्र की हत्या के पांच माह के बाद ही आरोपी जमानत पर छूट गया । रॉकी को जमानत मिलने से वह पूरी तरह से निराश हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*