शाखा खोलने में पिछड़ रहे हैं बैंक

बिहार के वित्त मंत्री अब्दुलबारी सिद्दिकी ने आज कहा कि राज्य में पांच हजार की आबादी पर बैंक शाखा खोलने के लक्ष्य के विरुद्ध चालू वित्तीय वर्ष में मात्र सात प्रतिशत ही शाखाएं खोली गयी हैं ।  श्री सिद्दिकी ने विधानसभा में राष्ट्रीय जनता दल के नीरज कुमार के तारांकित प्रश्न के उत्तर में कहा कि बिहार में पांच हजार की आबादी पर बैंक की शाखा खोलने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने बैंकों को 2016-17 में 1640 नयी शाखाएं खोलने का लक्ष्य दिया था, लेकिन इस लक्ष्य के विरुद्ध अबतक मात्र 114 शाखाएं ही खुली हैं ।kkk 
 

वित्तमंत्री ने कहा कि बैंकों के इस असहयोगात्मक रवैये पर उन्होंने कई बार आरबीआई , बैंकों और केन्द्रीय वित्त मंत्री को अपनी चिंता से अवगत कराया है । उन्होंने कहा कि चार जनवरी 2017 को वित्तमंत्रियों की बैठक के दौरान उन्होंने केन्द्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली के समक्ष भी इस मुद्दे को उठाया था और इस संबंध में उन्हें अलग से पत्र भी लिखा है ।

श्री सिद्दिकी ने कहा कि 17 फरवरी को राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी की बैठक में भी इस मुद्दे को उठाया गया । उन्होंने कहा कि पांच हजार की आबादी पर बैंक की शाखा खुलवाने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*