शुक्रवार शाम 4 बजे होगा पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी का अंतिम संस्‍कार, पीएम ने कहा – पिता तुल्‍य संरक्षक का साया उठ गया

देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारतरत्‍न अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम संस्‍कार शुक्रवार की शाम 4 बजे किया जायेगा. उनका अंतिम संस्‍कार दिल्‍ली में राष्‍ट्रीय स्‍मृति स्‍थल पर होगा. इससे पहले उनकी अंतिम यात्रा दोपहर एक बजे भाजपा मुख्यालय से शुरू होगी. वहीं, लोग शुक्रवार सुबह साढ़े सात बजे से साढ़े आठ बजे तक उनके आवास पर श्रद्धांजलि दे सकेंगे. 

नौकरशाही डेस्‍क

ये जानकारी आज भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने दी. उन्‍होंने बताया कि सुबह नौ बजे उनके पार्थिव शरीर को दीन दयाल उपाध्याय मार्ग स्थित भाजपा मुख्यालय ले जाया जाएगा. इसके बाद एक बजे से उनकी अंतिम यात्रा शुरू होगी. बता दें कि वाजपेयी का पार्थिव शरीर उनके सरकारी आवास छह, कृष्ण मेनन मार्ग पर रखा गया है, जहां विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज, भाजपा राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अटल जी को श्रद्धांजलि दी. पूर्व उपराष्‍ट्रपति हामिद अंसारी, उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ, बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार, योग गुरु बाबा रामदेव ने श्रद्धा सुमन अर्पित किया.

वहीं, पीएम मोदी ने वाजपेयी के निधन पर कहा कि अटल जी हम सभी के प्रेरणास्रोत रहे, उनका निधन एक युग का अंत है. अटल जी के रूप में भारतवर्ष ने अपना अनमोल रतन खो दिया है. उनके जाने का दुख शब्‍दों से परे है. उनका जाना मेरे लिए एक ऐसी कमी है, जो कभी भर नहीं पाएगी. अटल जी मां भारती के सच्‍चे सपूत थे. अटल जी के निधन से मेरे सर से पिता तुल्‍य संरक्षक का साया उठ गया है.

मालूम हो कि वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद 93 वर्ष की उम्र में गुरुवार शाम एम्स में निधन हो गया. वाजपेयी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा और केंद्र सरकार के सभी कार्यालयों में शुक्रवार को आधे दिन की छुट्टी रहेगी. इस दौरान पूरे भारत में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा जहां इसे नियमित रूप से फहराया जाता है और राजकीय शोक के दौरान आधिकारिक रूप से कोई मनोरंजन कार्यक्रम नहीं होगा. अंतिम संस्कार के दिन विदेशों में सभी दूतावासों में राष्ट्र ध्वज आधा झुका रहेगा.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*