शुरुआत में ही हंगामे की भेंट चढ़ गयी विधान सभा

विधान मंडल का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हुआ। पांच दिनों के इस सत्र में आज कोई विधायी कार्य तय नहीं था। सिर्फ कुछ औपचारिकताओं के बाद शोक संवेदना प्रकट कर सदन को सोमवार तक के लिए स्‍थगित कर देना था, लेकिन शोक संवेदना भी सही ढंग से नहीं पेश हो सकी। जदयू के चार बागी विधायकों की सदस्यता समाप्त किए जाने के सवाल पर भाजपा के सदस्यों ने विधानसभा में नारेबाजी की। सदन की कार्यवाही शुरू होने के कुछ देर बाद विधानसभा के सचिव ने ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू, राहुल कुमार, नीरज बबलू और रविंद्र राय की सदस्यता समाप्त किए जाने की घोषणा की। इससे भाजपा के तमाम सदस्य उठ खड़े हुए और सरकार पर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाने लगे। कुछ सदस्य शेम-शेम का नारा लगा रहे थे।vidhan sabha

 

इस बीच बिहार विधानमंडल में दिवंगत नेताओं और पाकिस्तान के पेशावर में आतंकी हमले में शहीद बच्चों एवं शिक्षकों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद सभा की कार्यवाही सोमवार 11 बजे दिन तक के लिये स्थगित कर दी गयी। उधर  बिहार विधान परिषद और विधानसभा में राज्य के पूर्व मंत्री पी.एन. शर्म, डा विजय कुमार सिंह, पूर्व सांसद फैयाजुल आजम, पूर्व विधायक विश्वेश्वर खां, रीझन झा, बम भोला यादव, संत प्रसाद सिंह और पूर्व विधान पार्षद इंद्र कुमार के अलावा पाकिस्तान के पेशावर में सैनिक स्कूल पर आतंकी हमले में 132 मासूम बच्चों के साथ शहीद हुए शिक्षकों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। सदस्यों ने दिवंगत आत्माओं की शांति के लिये एक मिनट तक मौन खड़ा होकर ईश्वर से प्रार्थना की।

 

इससे पूर्व विधानसभा में कार्यवाही शुरू होने पर सभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने सदस्यों का अभिनंदन करते हुए कहा कि वर्तमान सत्र के दौरान राजकीय विधेयक, गैर सरकारी संकल्प तथा वित्तीय वर्ष 2014-15 के द्वितीय अनुपूरक व्यय विवरणी के उपस्थापन का कार्यक्रम है। विधानमंडल का आज से शुरू हुआ शीतकालीन सत्र 26 दिसम्बर तक चलेगा।  इस सत्र में सदन की मात्र पांच बैठकें ही होंगी। शनिवार और रविवार होने के कारण 20 और 21 दिसम्बर तथा क्रिसमस डे के कारण 25 दिसम्बर को बैठक नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*