संघर्ष हमारे खून में है और यही जीवन है

उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा है कि केंद्र सरकार की तानाशाही के शिकार हैदराबाद यूनिवर्सिटी के क्रांतिकारी साथी रोहित वेमुला पूरे देश के वंचित, उपेक्षित एवं उत्पीड़ित वर्गों को एकसूत्रीय मजबूत धागे से जोड़ गए हैं। इन वर्गों की मजबूत गोलबंदी से बीजेपी, आरएसएस एवं मनुवादी व्यवस्था हिल गई है।tej

 

 

तेजस्वी यादव ने फेसबुक पर लिखा

अपने फेसबुक पोस्ट में उन्‍होंने लिखा है रोहित वेमुला की संवैधानिक हत्या से उपजे असंतोष व आक्रोश को दबाने के लिए इन्होंने जेनयू के बहाने राष्ट्रप्रेम रूपी दिखावटी चादर ओढ़नी चाही ताकि अपने पापों को ढक सकें, लेकिन जोश और जागरूकता से लबरेज युवाओं और छात्रों ने उसे खींचकर इनके झूठ एवं पाखंड को नंगा कर दिया।

 

 

तेजस्वी ने आगे लिखा है कि कन्हैया कुमार, जो रोहित वेमुला की लड़ाई के साथी थे, को झूठे मुक़दमे में फंसाया गया, ताकि इस मूवमेंट को भटका सकें। जिन लोगों ने कन्हैया के वीडियो के साथ छेड़खानी की, वो असली दोषी हैं। रोहित वेमुला इस जातिवादी एवं पूंजीवादी व्यवस्था के विरुद्ध हो रही लड़ाई के योद्धा हैं। हम शुरू से धर्मनिरपेक्ष, समाजवादी, समतावादी, अम्बेडकरवादी एवं लोकतांत्रिक व्यवस्था के पक्षधर हैं, जो भी संस्थाएं इस धारा को समाप्त करने की कोशिश करेंगी, उनको मुंह तोड़ जवाब दिया जायेगा। मैं स्वंय बजट सत्र के बाद इस लड़ाई को युवा साथियों संग मिलकर देशभर में आगे बढ़ाऊंगा। संघर्ष हमारे खून में है और यही जीवन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*