संजय के मिशन को सम्मान

अपनी जिम्मेदारियों को मिशन के रूप में निभाने वाले आईएएस अधिकारी व स्वास्थ्य सचिव संजय कुमार को वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने सम्मानित करने के लिए चुना.

संजय कुमार

संजय कुमार

बिहार के स्वास्थ्य सचिव सह राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यकारी निदेशक की जिम्संमेदारी निभा रहे संजय कुमार को यह पुरस्कार तंबाकू नियंत्रण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए दिया जाएगा. उन्यहोंने नौकरशाही डॉट इन से कहा यह सम्मान उन्हें जून महीने में नयी दिल्ली में एक समारोह में दिया जाना है.

संजय के प्रयासों से ही सरकार ने पिछले साल गुटखा पर प्रतिबंध लगाया था.तंबाकू नियंत्रण पर काम करने वाली संस्था सोशियो इकोनोमिक एंड एजुकेशनल डेवलपमेंट सोसाइटी(सीड्स) ने उनके नाम का अनुमोदन किया था. सीड्स के कार्यपालक निदेशक दीपक मिश्र का कहना है कि संजय कुमार के प्रयास का ही नतीजा है कि प्रदेश में तंबाकू नियंत्रण की दिशा में काफी सराहनीय काम हुआ है.

गेट्स फाउंडेशन ने भी सराहा

संजय पिछले चार सालों से स्वास्थ्य विभाग से जुड़े हैं.बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यकारी निदेश की हैसियत से उनके काम की राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है.बिल व मिलेंडा गेट्स फाउंडेशन ने 2012 में टीकाकरण से संबंधित कार्यक्रम को सफलतापूर्वक लागू करने पर राज्य सरकार को पुरस्कृत भी किया था. इस अवसर पर फाउंडेशन ने बिहार हेल्थ सोसाइटी के योगदान की सराहना करते हुए कहा था कि टीकाकरण योजना के सफल क्रियान्वयन के कारण हजारों बच्चों की जान बचाने में सफलता मिली है.

2011 में संजय कुमार ने इस बात की घोषणा की थी कि बिहार में पोलियो का एक भी नया मरीज नहीं है. ध्यान रहे कि बिहार एक समय में पोलियोग्रस्त बच्चों की संख्या की फेहरिस्त में काफी आगे था.

संजय बिहार कैडर के 1990 बैच के आईएएस हैं. उन्होंने अपने करियर की शुरआत एसडीओ के रूप में सिंहभूम जिले से की. उसके बाद वह पश्चिमी सिंहभूम, मुजफ्फरपुर और भोजपुर में डीएम रहे. अपने मिड करियर के दौरान संजय ने आईआईएम बंगलोर और अहमदाबाद में भी प्रशिक्षण लिया. वह 2007-8 के दैरान केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*