संविधान की रक्षा के लिए एकजुट होने का आह्वान

विपक्षी दलों ने मोदी सरकार पर आज कड़ा प्रहार करते हुए उस पर देश की समृद्ध साझी विरासत को नष्ट करने की कोशिश का आरोप लगाया और सांप्रदायिक ताकतों को परास्त करने तथा संविधान की रक्षा के लिए एकजुट होने का संकल्प व्यक्त किया।  जनता दल यू के बागी नेता शरद यादव की ओर से आयोजित ‘साझी विरासत बचाओ ’सम्मेलन में कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, राष्ट्रीय जनता दल , समाजवादी पार्टी , बहुजन समाजवादी पार्टी , तृणमूल कांग्रेस और वाम दलों समेत प्रमुख विपक्षी दलों ने एक स्वर से मोदी सरकार और संघ परिवार के खिलाफ हूंकार भरी और समाज के सभी वर्गों खासकर युवाओं से आगे आने का आह्वान किया ।

सम्मेलन में श्री शरद यादव ,कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी तथा मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी समेत सभी नेताओं ने कहा कि संघ परिवार देश की समृद्ध साझी विरासत और विविधता को नष्ट करने में लगा है । उन्होंने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ देश के संविधान को बदलना चाहता है और अपनी विचारधारा देश पर थोपने के प्रयास में विभिन्न प्रमुख संस्थाओं में अपने लोगों को भरने में लगा है ।

 

उन्होंने मिलकर सांप्रदायिक ताकतों से लडने की प्रतिबद्धता जतायी । श्री यादव ने कहा कि आज देश में बेचैनी है । एक ओर भीड द्वारा लोगों की पीट -पीट की जा रही हत्याओं से खास समुदाय को डराने की कोशिश की जा रही है। दूसरी ओर किसानों ,दलितों और आदिवासियों पर जुल्म बढ़ रहा है। ’उन्होंने कहा कि इस देश में अनेक धर्म , जाति , सम्प्रदाय और भाषा के लोग हैं और इसकी विविधता ही इसकी खूबी है, लेकिन अब कुछ तत्व इसे ही नष्ट करना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*