सुप्रीम कोर्ट में अब जूनियर वकील भी कर सकेंगे मेंशनिंग

अब सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के लिए चीफ जस्टिस के सामने AOR यानी एडवोकेट ऑन रिकार्ड के अलावा जूनियर वकील भी मेंशनिंग कर सकेंगे. सीजेआई दीपक मिश्रा ने आज मेंशनिंग के पुराने नियम में संशोधन करते हुए कहा कि दो शर्तों के साथ जूनियर वकीलों को भी मेंशनिंग की इजाजत दी जा रही है ताकि वे पूरी तैयारी के साथ मेंशनिंग के लिए आएंगे.

नौकरशाही डेस्‍क

सुप्रीम कोर्ट ने नए साल पर जूनियर वकीलों को तोहफा दिया है. जस्टिस मिश्रा के मुताबिक यह बदलाव इसलिए किया जा रहा है ताकि जूनियर वकील भी मेंशनिंग की प्रक्रिया को सीख सकें. गौरतलब है कि  20 सितंबर को चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने ही कहा था कि वरिष्ठ वकीलों को सुबह के वक्त जरूरी मामलों/ नई अर्जी/ हस्तक्षेप याचिका की मेंशनिंग की इजाजत नहीं होगी और सिर्फ एडवोकेट ऑन रिकार्ड ही ये मेंशनिंग कर पाएंगे.

हालांकि है कि मेंशनिंग की प्रथा कोई लिखित नियम नहीं है. जस्टिस वैकेंटचलैया और जस्टिस अहमदी के चीफ जस्टिस बनने के वक्त वरिष्ठ वकीलों द्वारा मेंशनिंग परंपरा पर रोक लगी थी. इसके पीछे सोच यह थी कि जूनियर वकीलों को भी मौका मिले और वरिष्ठ वकील असली मुकदमों में हिस्सा लें.

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*