सुशील ने पूर्व विधान पार्षद राकेश रंजन से जमीन लिखवाने का लगाया आरोप

उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार के खिलाफ आज एक और नया खुलासा करते हुए कहा कि कुमार राकेश रंजन को विधान पार्षद बनाने के एवज में उन्होंने पटना शहर की करोड़ों रुपये मूल्य की जमीन अपने दो पुत्रों तेजप्रताप यादव एवं तेजस्वी प्रसाद यादव के नाम वसीयत करवा ली।

श्री मोदी ने पटना में कहा कि राजद अध्यक्ष ने पहले मोहम्मद शमीम को विधान परिषद् का सदस्य बनाने के लिये उनसे प्लॉट लिखवाया। इसके बाद श्री रंजन से भी दो बार विधान पार्षद बनाने के एवज में पटना शहर की करोड़ों रुपये मूल्य की जमीन अपने पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव और तेज प्रताप यादव के नाम वसीयत करवा ली। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री रंजन को राजद अध्यक्ष ने वर्ष 1999 से 2006 तक दो बार विधान पार्षद बनावाया और उसके एवज में मोहम्मद शमीम की तरह ही पटना के दो प्लॉट का पहले पॉवर ऑफ अटार्नी तथा फिर वसीयत के माध्यम से मालिक बन बैठे। उन्होंने कहा कि राजद अध्यक्ष और उनके परिवार के लिये 12 मई 2005 सौगात लेकर आया था

 

श्री मोदी ने कहा कि 12 मई, 2005 को ही केवल मोहम्मद शमीम ने ही नहीं बल्कि श्री रंजन ने पहले राजद अध्यक्ष की पत्नी राबड़ी देवी को पॉवर ऑफ अटार्नी के माध्यम से दो प्लॉट का मालिक बना दिया तथा उसी दिन उनके पुत्र तेजस्वी और तेज प्रताप को जमीन की वसीयत भी कर दी। उन्होंने कहा कि श्री रंजन ने अकेले वसीयत नहीं की, बल्कि मोहम्मद शमीम की पत्नी सोफिया तब्बुस्म के समान श्री रंजन की पत्नी ने भी तेजस्वी और तेज प्रताप को वसीयत कर दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*