सुहैल हिंगोरा: “हां इसी के घर मुझे बंधक रखा गया था”

गुजरात के व्यवसायी सुहल हिंगोरा ने अधिकृत रूपसे कहा है कि उसे किडनैप कर के रंजीत के घर में ही रखा गया था. बिहार पुलिस ने रंजीत को सुहैल के सामने पेश किया था.

सुहैल के पिता हनीफ हिंगोरा

सुहैल के पिता हनीफ हिंगोरा

सुहैल ने कहा- हां हां यही है वह आदमी जिसने मुझे बंधक बना कर रखा था. मालूम हो कि बिहार पुलिस ने सुहैल से अपहरण मामले में लम्बी पूछताछ की और अपहरर्ताओं के बारे में जानकारी जुटायी है. बिहरा पुलिस इस पूछताछ से मिली जानकारियों को अतिमहत्वपूर्ण मान रही है.

गुजरात के हिंगोरा ग्रूप के मालिक हनीफ हिंगोरा के 23 वर्षीय पुत्र सुहौल हिंगोरा को अपहर्ताओं ने दमन से अगवा कर लिया था और उन्हें बिहार के छपरा के नयागांव में 25 दिनों तक बंधक बना कर रखा गया था. हनीफ हिंगोरा ने अपहर्ताओं को, कहा जा रहा है कि 25 करोड़ रुपये देकर अपने बेटे को छुड़ाया था.



उधर सुहैल हिंगोरा ने बिहार पुलिस से पूछताछ में बंधक के दौरान उनके साथ किया जाने वाले व्यवहार की रुदाद सुनाते हुए कहा कि रंजीत ने खुद मुझे मेरे अब्बा से दो बार फोन पर बात करवायी थी. चूंकि मैं जिस कमरे में था वहां से फोन का टावर ठीक से काम नहीं कर रहा था इसलिए वे मुझे छत पर ले जा कर बात करवाते थे.

सुहैल ने कहा कि मेरे साथ रंजीत गिरोह के लोगों ने बंधक के दौरान कोई ज्यादती तो नहीं की पर खाने के लिए महज दो रोटियां दी जाती थीं. पुलिस सूत्रों के अनुसार सुहैल ने कहा कि अपर्हता सुहैल के बात व्यवहार से समझ गये थे कि वह खुद भी समस्या उत्पन्न नहीं करना चाहते थे.

पुलिस ने सुहैल से जो जानकारियां इक्ट्ठी की है उसे सुबूत के तौर पर वीडियो रिकार्डिंग भी की है. समझा जा रहा है कि पुलिस इन जानकारियों के आधार पर इस मामले से जुड़े अन्य लोगों तक पहुंचने के प्रयास में लगी है. माना जा रहा है कि पुलिस ज्लद ही कुछ और लगों को गिरफ्तार कर सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*