स्तन कैंसर को हराने के लिये युवा पीढ़ी का जागरुक होना ज़रूरी- डॉ वीपी सिंह

पटना के प्रख्यात कैंसर सर्जन डॉ वी पी सिंह ने कहा कि देश में बढ़ते स्‍तन कैंसर से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी है। इसके लिए हमारी युवा पीढ़ी को जागरूक होना होगा। वैसे तो हर तरह के कैंसर रोग खतरनाक होता है, लेकिन महिलाओं में होने वाले स्‍तन कैंसर के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं, जिसे समझने पर कंपकंपी छूट जाती है।

नौकरशाही डेस्क

कैंसर सर्जन डॉ वी पी सिंह  ने उक्‍त बातें आज श्री अरविंद महिला कॉलेज की होम साइंस विभाग और सवेरा कैंसर ऐण्ड मल्टी स्पेसियलिट हॉस्पीटल, कंकड़बाग पटना के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित स्तन कैंसर जागरुकता कार्यक्रम के अतंर्गत कहा। इससे पहले मुख्य अतिथि एवं वक्ता के तौर पर डॉ सिंह ने कार्यकम की विधिवत शुरुआत डॉ वी पी सिंह, श्री अरविंद महिला कॉलेज की प्रिन्सिपल डॉ ऊषा झा, होम साइंस विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ शहनाज़ खान एवं डॉ विमी सिंह ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

इस अवसर पर डॉ वी पी सिंह ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी समाज का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। अगर इन्हें इस बीमारी के बारे में जानकारी दी जाए और इन्हें इस जानकारी को अपने आसपास के लोगों के साथ शेयर करने के लिये प्रेरित किया जाय तो हमलोग स्तन कैंसर का शुरुआती स्टेज में इलाज कर सकते हैं। मौके पर श्री अरविंद महिला कॉलेज की होम साइंस विभाग के डॉ विमी सिंह ने कहा कि हम स्तन कैंसर को होने से रोक तो नहीं सकते, लेकिन थोड़ी सी जागरूकता अपनाकर इससे होने वाले असमय मौत को टाल जरूर सकते हैं। अगर इस रोग के आरंभिक लक्षण का पता लगा लिया तो इलाज काफी आसान हो जाता है। लगभग 80 प्रतिशत रोगी ठीक हो जाते हैं। इस मौके पर श्री अरविंद महिला कॉलेज के सैंकड़ो छात्राओं के अलावा प्रिंसीपल एवं शिक्षिकायें उपस्तिथ थी। सबों ने स्‍तन कैंसर के प्रति समाज में जागरूकता  लाले का संकल्‍प लिया।

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*