हिन्दी साहित्य सम्मेलन का ४०वाँ महाधिवेशन शनिवार को

हिन्दी साहित्य सम्मेलन का ४०वाँ महाधिवेशन शनिवार को

विद्यावारिधिकी उच्च उपाधि से विभूषित होंगी न्यायमूर्ति मृदुला मिश्र 

सम्मानित होंगे कई विद्वान होगा कविसम्मेलन और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी,

महात्मा गांधी और आचार्य देवेंद्र नाथ शर्मा को समर्पित है पूरा आयोजन 

 २ मार्च को प्रातः १० बजे से आरंभ हो रहेबिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन के ४०वें महाधिवेशन में चाणक्य राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय की कुलपति न्यायमूर्ति मृदुला मिश्र कोसम्मेलन की उच्च मानद उपाधि विद्यावारिधिप्रदान कर सम्मानित किया जाएगा। पूर्ण दिवसीय इस महाधिवेशन में हिन्दी भाषा और साहित्य की मूल्यवानसेवा करने वाले कई अन्य विद्वानों को भी सम्मानित किया जाएगा। उद्घाटन सत्र के अतिरिक्त दो वैचारिक सत्रकविसम्मेलन तथा संध्या में मनोहारी सांस्कृतिक कार्यक्रम भी संपन्न होगाजिसमें ३५ कलाकारों द्वारा नृत्यनाटिकासीतायन‘ की प्रस्तुति होगी।

साहित्य सम्मेलन में आयोजित की गई कार्यसमिति की बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुएसम्मेलन अध्यक्ष डा अनिल सुलभ ने यह जानकारी देते हुए बताया किसम्मेलन की स्थापना के शतीवर्ष में आयोजित यह महाधिवेशन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा महान साहित्यसेवी आचार्य देवेंद्र नाथ शर्मा को समर्पित हैजिनका यह क्रमशः सार्धशती तथा जन्मशती वर्ष है। उन्होंने बताया किअधिवेशन के उद्घाटनसत्र में प्रसिद्ध गांधीवादी चितंक डा रामजी सिंहप्रो मंगलमूर्तिप्रो विनयशील गौतमडा अमर कुमार सिंह तथा डा क़ासिम ख़ुर्शीद समेत अन्य विद्वानों को नामितअलंकरणों से सम्मानित किया जाएगा। 

डा सुलभ के अनुसार भोजनावकाश के पूर्व संपन्न होनेवाले प्रथम वैचारिकसत्र मेंगांधीदर्शन और साहित्य‘ विषय पर चर्चा होगीजिसमें मुख्यवक़्ता के रूप मेंडा रामजी सिंह अपना व्याख्यान देंगे।दूसरे सत्र में आचार्य देवेंद्र नाथ शर्मा एवं काव्य में अलंकार शास्त्र‘ विषय पर संगोष्ठी होगीजिसमें प्रो मंगलमूर्तिडा विनयशील गौतमप्रो बासुकीनाथ झा अपने व्याख्यान प्रस्तुत करेंगे। तीसरा सत्रखुलासत्र होगाजिसमें राज्य भर से आए प्रतिनिधि अपने विचार रखेंगे। इसके पश्चात कविसम्मेलन संपन्न होगाजिसका उद्घाटन हिंदी प्रगति समिति के अध्यक्ष कवि सत्यनारायण करेंगे। संध्या में सम्मेलन की कलामंत्री पल्लवी विश्वास के निर्देशन मेंसाहित्य सम्मेलन नृवागा संगीत अकादमी के सौजन्य से डा शांति जैन द्वारा लिखित नृत्यनाटिकासीतायन‘ की प्रस्तुति होगी। 

कार्य समिति की बैठक में सम्मेलन के उपाध्यक्ष नृपेंद्र नाथ गुप्तडा शंकर प्रसादडा मधु वर्माडा कल्याणी कुसुम सिंहप्रधान मंत्री डा शिववंश पाण्डेय,साहित्यमंत्री डा भूपेन्द्र कलसीप्रो बासुकीनाथ झायोगेन्द्र प्रसाद मिश्रराज कुमार प्रेमीआचार्य आनंद किशोर शास्त्रीआरपी घायलडा मेहता नगेंद्र सिंहडा विनय कुमार विष्णुपुरी,श्रीकांत सत्यदर्शी,कृष्णरंजन सिंह,पुष्पा जमुआरअंबरीष कांतडा नागेश्वर यादवकुमार अनुपम,आनंद किशोर मिश्र तथा डा अमरनाथ प्रसाद उपस्थित थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*