एसपी का शक, गूगल की मदद से गिरफ्त में आया निखिल

गूगल पर एक सर्च ने बिहार के पूर्व मंत्री की बेटी के साथ यौन शोषण मामले में पुलिस को सफलता दिला दी
नौकरशाही ब्यूरो

गूगल पर एक सर्च ने  बिहार के पूर्व मंत्री की बेटी के साथ यौन शोषण मामले में पुलिस को सफलता दिला दी

गूगल पर एक सर्च ने
बिहार के पूर्व मंत्री की बेटी के साथ यौन शोषण मामले में पुलिस को सफलता दिला दी

ये गूगल भी न बड़े बड़े की नाको में दम किये हुए है. गूगल पर एक सर्च ने बिहार के पूर्व मंत्री की बेटी के साथ यौन शोषण मामले में पुलिस को सफलता दिला दी. मुख्य आरोपी निखिल प्रियदर्शी को रुटीन चेकिंग के दौरान गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी में सबसे महत्वपूर्ण बात यह रही कि मामले का खुलासा हाई टेक तरीके से किया गया। किसी ने उत्तराखंड के पौड़ी पुलिस को बताया की दो आदमी है जो बिना आईडी के हृषिकेश में रहना चाहता है. उसके पास ऑडी कार है देख लीजिये. इसके बाद जब पुलिस ने निखिल को पकड़ा तो उसने प्रियदर्शी नाम बताया. पूरा नाम देखने के बाद वह के एसपी ने गूगल पर सर्च किया तो यह हाई प्रोफाइल केस वहाँ सर्च में दिखलाने लगा. पुलिस की गिरफ्त में आये बिहार के पूर्व मंत्री की बेटी के यौन शोषण का मुख्य आरोपी निखिल प्रियदर्शी और उसके पिता पूर्व आईएएस कृष्ण बिहारी प्रसाद को रुटीन चेकिंग के दौरान गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने गाड़ी के नंबर को भी गूगल पर सर्च किया तो पता चला कि यह गाड़ी प्रियदर्शी कंपनी के नाम पर रजिस्टर्ड है। जब आगे गूगल पर और सर्च किया गया तो बिहार पूर्व मंत्री के बेटी का यौन शोषण की बात सामने आई जिसके बाद पौड़ी पुलिस ने बिहार पुलिस से बात की और फरार चल रहे पिता-पुत्र को हिरासत में लिया।
पौड़ी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एम मोहसिन ने बताया कि पटना पुलिस की एसआईटी टीम हवाई मार्ग से उत्तराखंड पहुंच रही है और वहां से निखिल प्रियदर्शी और उसके पिता को ट्रांजिट रिमांड पर पटना ले जाया जाएगा। निखिल के पिता के खिलाफ ही वारंट जारी किया गया था। 12 मार्च को निखिल प्रियदर्शी के भाई मनीष प्रियदर्शी की एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया था।
पूर्व मंत्री की बेटी और पीड़िता ने प्राथमिकी में निखिल प्रियदर्शी, भाई मनीष प्रियदर्शी और पिता को आरोपी बनाया है। इस हाई प्रोफाइल केस का मुख्य आरोपी निखिल अबतक पुलिस की गिरफ्त से बाहर था और अब गिरफ्तारी के बाद पूरे मामले का खुलासा होने की उम्मीद है।
आरोपी निखिल प्रियदर्शी बिहार कैडर के पूर्व आईएएस का बेटा है जिसे उत्तराखंड के ऋषिकेश के पौड़ी जनपद के लक्ष्मण झूला पुलिस ने चीला के पास गिरफ्तार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*