12वीं की परीक्षा में एलिटियंस ने लहराया परचम

ऐसे समय में जब बिहार बोर्ड की 12वी परीक्षा में महज 18 प्रतिशत छात्रों को फर्स्ट डिविजन मिला है, पटना की एलिट इंस्टिच्यूट के लगभग सभी छात्र प्रथम श्रेणी से और दो छात्र द्वीतीय श्रेणी से उत्तीर्ण हुए हैं. इसी प्रकार सीबीएससी कोर्स से एलिट में 12वीं की पढ़ाई करने वाले सौ फीसदी छात्रों ने प्रथम श्रेणी से पास किया है.amardeep.jha.gautam

एलिट के छात्र विवेक सिंह ने सीबीएससी की 12 वीं परीक्षा में संस्थान में टॉप रैंक प्राप्त किया और उन्हें 89.60 प्रतिशत अंक मिले हैं.

एलिट इंस्टिच्यूट 12वीं और इंजीनियरिंग व मेडिकल की तैयारी कराने वाला पटना की अग्रणी संस्थान है. एलिट के निदेशक अमरदीप झा गौतम ने 12वीं की परीक्षा में अपने छात्रों की सफलता पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि बिहार बोर्ड का इस बार का परीक्षा परिणाम भले ही राज्य के छात्रों के लिए निराशाजनक रहा हो, लेकिन एलिट के छात्रों ने शानदार सफलता अर्जित कर एलिट का नाम फिर रौशन किया है.

 

ज्ञात हो कि बिहार बोर्ड की 12वीं कक्षा में राज्य भर में मात्र 66 प्रतिशत छात्र ही सफल हो सकें हैं और इनमें भी मात्र 18 प्रतिशत छात्र ही फर्स्ट डिवजन का अंक ला पाये हैं. जबकि पिछले साल 91 प्रतिशत छात्र पास हुए थे.गौतम ने ऐसे में एलिटियन की शनदार सफलता का श्रेय अपने ‘इंटिग्रेटेड कोर्स’ को देते हुए कहा कि यह कोर्स 12वीं की परीक्षा और प्रतियोगी परीक्षा को सम्मिलित रूप से ध्यान रख कर तैयार किया गया है ताकि छात्र दोनों परीक्षाओं में निश्चित कामयाबी हासिल कर सकें.

 

ध्यान रखने वाली बात है कि ऐसा कई बार देखा गया है कि कई छात्र जेईई/ पीएमटी परीक्षा में कम्पीट कर जाते हैं पर वे 12 वीं की परीक्षा में फेल कर जाते हैं जिसके कारण उनकी तमाम मेहनत बरबाद हो जाती है. एलिट इंस्टिच्यूट के निदेशक ने बताया कि हमने छात्रों की इस कठिनाई को ध्यान में रख कर ही इंटिग्रेटड कोर्स की शुरूआत 2012 में की जिसका असर इस बार के जेईई मेन और 12 वीं की परीक्षा में स्पष्ट दिखा है.

हाल ही में जेईई मेन परीक्षा के रिजल्ट में एलिट इंस्टिच्यूट के 153 छात्रों को सफलता मिली है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*