12 जनपथ में आंबेडकर की बेअदबी पर चिराग चुप, बिफरे तेजस्वी

12 जनपथ में आंबेडकर की बेअदबी पर चिराग चुप, बिफरे तेजस्वी

स्व. राम बिलास पासवान के बंगले 12 जनपथ को खाली कराने के क्रम में आंबेडकर की प्रतिमा भी फेंकी मिली। वीडियो के बाद हंगामा। चिराग चुप, तेजस्वी का प्रतिवाद।

दिल्ली का 12 जनपथ बंगला स्व. रामबिलास पासवान के नाम से जुड़ गया था। वे यहां 32 वर्षों से थे। यहीं लोजपा का राष्ट्रीय कार्यालय भी था। आज लोजपा बिना राष्ट्रीय कार्यालय वाली पार्टी है। उनकी मृत्यु के बाद जिस तरह बंगले को खाली कराया गया, उसके वीडियो लगातार आ रहे हैं। अब एक नए वीडियो में साफ दिख रहा है कि बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा की बेअदबी भी हुई। इस वीडियो के सामने आने के बाद चिराग पासवान चुप हैं, पर तेजस्वी यादव ने कड़ा प्रतिवाद किया है। उन्होंने कहा कि बंगला खाली कराने में न सिर्फ पद्मश्री स्व. पासवान का अपमान किया गया, बल्कि संविधान और दलित वर्ग का भी अपमान किया गया। वहीं, चिराग पासवान इस पूरे प्रकरण पर चुप हैं।

इस वीडियो को शेयर करते हुए विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया-ताउम्र वंचितों के हितैषी और पैरोकार रहे स्व० श्री रामविलास पासवान जी का दिल्ली आवास खाली कराने गयी केंद्र सरकार की टीम ने भारत रत्न बाबा साहेब अंबेडकर की मूर्ति व पद्म भूषण पासवान जी की तस्वीर को अपमानजनक तरीके से सड़क पर फेंक संविधान व दलित वर्ग का अपमान करने का कुकृत्य किया है।

सामाजिक कार्यकर्ता रूदल ने कहा- तेजस्वी यादव जी, नेता प्रतिपक्ष, बिहार विधानसभा, जो-जो लोग अपने समाज को गिरवी रख कर मनुवादी लोगों के साथ गये हैं एक दिन सबका हस्र यही होना है। साहनी जी के बाद चिराग पासवान और अब अगला नंबर श्री जीतनराम मांझी का और उसके बाद पलटू चाचा का नंबर आने वाला है। सोशल मीडिया पर वीडियो सामने आते ही अनेक दलित संगठनों ने भी प्रतिवाद जताया है। फिल्मकार विनोद कापरी ने कहा- जब बंगला खाली कराया, तबमोदी सरकार में मंत्री रहे रामविलास पासवान भी धूल पड़े कराह रहे थे!

तेजस्वी ने नीतीश से पूछा, सेना के जवान हिंदुस्तानी हैं या नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*