20-21 मई को डिजिटल दुनिया में लिखी जायेगी नयी ईबारत, शिवानी बहन व मनोज Manoj Muntashir होंगे शामिल

Advantage Dialogue के पावरपैक्ड एपिसोड 20-21 मई को हो रहा है. इसमें जहां विश्व प्रसिद्ध शिवानी बहन अपनी बात रखेंगी वहीं बालिउड के मशहूर गीतकार मनोज मुंतसिर अपने गीतों की यात्रा पर चर्चा करेंगे.

Shivani Bahan

एडवांटेज डायलाॅग का 20-21 को होने वाला एपिसोड पावर पैक्ड होगा. 20 मई बुधवार को वी.के. शिवानी बहन दिन के 2.00 बजे से 3.00 बजे के बीच एन.डी.टी.वी. की मीडिया एक्सपर्ट नगमा सहर से बात करेंगी.

21 मई गुरूवार को बाॅलीवुड के गीतकार अैर लेखक मनोज मुंतसिर शामम 7.30 बजे से 8.30 बजे तक मीडिया एक्सपर्ट रत्ना पुरकायस्थ से बात करेंगे.

Manoj Muntisar

Advantage Dialogue के एपिसोड अब जून में होंगे

एडवांटेज लिटरेरी फेस्टिवल का चैथा एपिसोड 30-31 मई को इंटरनेषनल ई-मुषायरा के रूप में

पटना- एडवांटेज डायलाॅग का यह सप्ताह बहुत बड़ा होगा, पावर पैक्ड होगा जिसमें कल बुधवार 20 मई को दिन के 2.00 बजे से 3.00 बजे तक की वक्ता ब्रह्मा कुमारी शिवानी बहन तथा गुरूवार 21 मई को शामम के 7.30 बजे से 8.30 बजे तक बाॅलीवुड के प्रसिद्ध गीतकार और लेखक मनोज मुंतसिर डिजिटल प्लेटफार्म जूम (Zoom) तथा फेसबुक पर लाॅकडाउन के दौरान मन को शांति और सुकून प्रदान करने वाली बातें करेंगे।

इस कार्यक्रम के बाद अब इस माह मई में एडवांटेज डायलाॅग के कोई कार्यक्रम नहीं होंगे, अगला एपिसोड जून में होगा।

अगले सप्ताह होने वाली पवित्र पर्व ईद को लेकर एडवांटेज डायलाॅग के कार्यक्रम को स्थगित किय गया है।

Advantage Litrafi Festival में 30-31 मई को इंटेरनेशन ई-मुशायरा

इस बीच 30 और 31 मई को ईद की सौगात के रूप में इंटरनेशनल ई-मुशायरा का आयोजन एडवांटेज लिटरेरी फेस्टिवल की ओर से किया जा रहा है जो एडवांटेज फेस्टिवल का चैथा एपिसोड होगा।

इसमें देश-विदेश के नामचीन शायर भाग लेंगे। एडवांटेज ग्रुप के संस्थापक और सी.ई.ओ. तथा एडवांटेज लिटरेरी फेस्टिवल आयोजित करने वाली एडवांटेज सपोर्ट (एडवांटेज की सी.एस.आर. कंपनी) के सचिव खुर्शीद अहमद ने बताया कि यह सप्ताह पावर पैक्ड है, इसलिए यह सप्ताह काफी महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि इसमें वी.के. शिवानी बहन अंतर्राश्ट्रीय वक्ता हैं जिनके 30 लाख अनुयायी (फाॅलोवर) हैं। शिवानी बहन का जन्म 31 मई 1972 को पुणे में हुआ था तथा 23 वर्ष की अवस्था में उन्होंने 1995 में ब्रह्मा कुमारी ज्वाइन किया। ध्यान मग्न रहने के क्रम में कहा जाता है कि उन्हें भगवान का दर्शन हुआ था। यह उच्च कोटि की वक्ता हैं जिसका लाभ लोग उठा सकते हैं।

उन्होंने कहा कि बाॅलीवुड कलाकार मनोज मुंतशिर( Manoj Muntashir) एडवांटेज लिटरेरी फेस्टिवल के तीसरे एपिसोड में पटना के प्रेमचंद रंगशाला में 2019 के नवम्बर माह में अपना कार्यक्रम कर चुके हैं। उस समय भी इनके साथ मीडिया एक्सपर्ट डाॅ. रत्ना पुरकायस्थ ने बात की थी और अब इस बार भी वही उनसे बातें करेंगी।

कई फिल्मी गाने लिख के धूम मचा चुके हैं मुंतसिर

मुंतिसिर अब तक बाॅलीवुड के लिए कई गाने लिख चुके हैं जिनमें तेरी गलियां, तेरे संग यारा, कौन तुझे यूं, मैं फिर भी तुझको चाहूंगा, मेरे रश्के कमर, तेरी मिट्टी आदि शामिल हैं। वे आशिकी-2 तथा बाहुबली फिल्मों के लिए भी गाने लिख चुके हैं। इसके अलावा अक्षय कुमार की केसरी, रूस्तम, एम.एस.धोनी, एक विलेन, हाॅफ गर्लफ्रेंड तथा बादशाह के लिए भी गाने लिख चुके हैं।

एडवांटेज डायलाॅग के कार्यक्रम में अब तक बड़े-बड़े लोग भाग ले चुके हैं जिनमें डाॅ. ए.ए. हई, रौषन अब्बास, सैयद सुल्तान अहमद, कोका कोला के वाइस प्रेसिडेंट इष्तेयाक अमजद, पूर्व क्रिकेटर सैयद सबा करीम, गूंज के संस्थापक अंषु गुप्ता के नाम प्रमुख हैं। श्री अहमद ने कहा कि अब तक 24 में से एडवांटेज डायलाॅग के 16 एपिसोड को 8 लाख लोगों ने देखा है तथा 15 हजार लोगों ने शेयर किया है।

Sihvani Bahan
Khurshid Ahmad- ईवेंट मैनेजमेंट की दुनिया का चर्चित नाम

ई-मुशायरा के शायर

ई-मुशायरा में लखनऊ के मुनव्वर राणा, दिल्ली की शबीना अदीब, अमेरिका से फरहत शहजाद और डाॅ. नौश असरार, अबुधाबी से सैयद सरोस आसिफ, दिल्ली से शारिक कैफी, भोपाल से नुसरत मेहदी भाग लेंगी।

यह कार्यक्रम भी जूम (Zoom) पर होगा जो 7.30 बजे से 9.00 बजे तक चलेगा। इस कार्यक्रम को देखने के लिए लोगों को advantagelit@gmail.comपर रजिस्ट्रेषन कराने के लिए 500 रूपए डोनेशन देना होगा। यदि काई ज्यादा राशि देना चाहे तो दे सकता हैं।

रजिस्ट्रेशन से प्राप्त राशि जनहित के काम पर खर्च की जायेगी। श्री अहमद ने कहा कि मुशयरा का यह कार्यक्रम काफी बड़ा है और इसमें भाग लेने के लिए अभी से रजिस्ट्रेशन कराने का सिलसिला शुरू हो गया है।

टीम एडवांटेज

इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए एडवांटेज लिटरेरी फेस्टिवल कोर कमेटी के सदस्य फैजान अहमद, ओबेदुर रहमान, फहीम अहमद, अहमद साद, एजाज अहमद, अनवारूल होदा, शिव चतुर्वेदी, अनवर जमाल, शोमेला, सचिव खुर्शीद अहमद तथा अध्यक्ष डाॅ. ए.ए. हई काफी मेहनत कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*