2014 के चुनावी वादों की एटीआर तैयार की भाजपा ने

भारतीय जनता पार्टी ने 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए अपने संकल्प पत्र के साथ ही 2014 के संकल्प पत्र में किये गये वादों के क्रियान्वयन के संबंध में कार्रवाई रिपोर्ट भी तैयार की है। 

पार्टी के उच्च पदस्थ सूत्रों ने यहां बताया कि भाजपा का संकल्पपत्र कांग्रेस के घोषणापत्र की तुलना में अधिक प्रभावी और आकर्षक होगा। इस संकल्प पत्र के साथ ही वर्ष 2014 के चुनाव के संकल्प पत्र में किये लगभग 500 वादों के क्रियान्वयन की मंत्रालयवार रिपोर्ट तैयार की गयी है।

सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का निर्देश था कि सरकार ने अपने संकल्पों को पूरा करने में वास्तव में कितना काम किया है, इसकी रिपोर्ट तैयार की जानी चाहिए। सूत्रों ने कहा कि कुल मिलाकर 95 प्रतिशत से अधिक वादों को सफलतापूर्वक पूरा किया गया है। यह एक्शन टेकन रिपोर्ट के आधार पर ही 2019 का संकल्प पत्र तैयार हो रहा है।

सूत्रों ने कहा कि संकल्प पत्र तैयार करना अत्यंत दुरूह कार्य हो गया है। बाहरी लोगों की बजाय पार्टी के नेताओं को राज़ी करना सबसे कठिन काम हो गया है। एक एक व्यक्ति एक एक शब्द को लेकर इतनी मीनमेख निकाल रहा है कि उतना आज़ादी मिलने के बाद संविधान लिखने में नहीं हुआ होगा।

संकल्प पत्र को बनाने के लिए भाजपा ने कई उपसमितियां बनाई थीं। गृह मंत्री राजनाथ सिंह को इसका ज़िम्मा सौंपा गया था। कृषि विषय पर संकल्प पत्र की उपसमिति का दायित्व मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास है जबकि अर्थव्यवस्था का वित्त मंत्री अरुण जेटली, महिला विषयों की ज़िम्मेदारी श्रीमती स्मृति ईरानी, शिक्षा एवं कौशल का श्री प्रकाश जावड़ेकर, राष्ट्रीय सुरक्षा उपसमिति मेजर जनरल बी सी खंडूरी के पास है। पार्टी ने संकल्पपत्र बनाने के लिए कुल 12 उपसमितियां बनाई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*