22 की उम्र में आईएएस बने रोमन ने जॉब छोड़ी,पीएमओ ने कहा वाह!

जयपुर के रोमन सैनी 22 साल की उम्र में यूपीएससी परीक्षा पास कर देश के सबसे युवा आईएएस अफसरों में शामिल हुए थे पर अब जॉब छोड़ दिया है.इस बीच उनके इस फैसले पर पीएमओ ने उनकी तारीफ की है. क्या है माजरा?

रोमन के इस फैसले की पीएमओ ने तारीफ की है

रोमन के इस फैसले की पीएमओ ने तारीफ की है

प्रतीत चटर्जी

रोमन अब अपने दोस्त के साथ मिल कर फ्री ऑनलाइन एजुकेशन स्टार्ट-अप शुरू कर रहे हैं।

जयपुर के रोमन ने 16 साल में एम्स का एन्ट्रेंस एग्जाम पास किया था।

रोमन जबलपुर (मध्य प्रदेश) में असिस्टेंट कलेक्टर थे। अब पूरा समय एजुकेशन स्टार्ट-अप ‘अनएकेडमी’ को देंगे।

उनकी इस कोशिश की तारीफ करते हुए पीएमओ ने 16 जनवरी से होने वाले स्टार्ट-अप इंडिया में उन्हें बुलाया है।
स्कूल में दोस्त के साथ मिलकर सोचा आइडिया…

-रोमन और उनके दोस्त गौरव मुंजाल एकसाथ 11वीं में ट्यूशन पढ़ने जाते थे। उसी समय उनके दिमाग में ये आइडिया आया कि हर बच्चे को अच्छी ट्यूशन क्यों नहीं मिल सकती। अनएकेडमी की शुरुआत 2011 में यू-ट्यूब चैनल के रूप में हुई थी। इसे रोमन के दोस्त गौरव ने बनाया था।- उन्होंने अब तक 10 लाख से ज्यादा वीडियो जारी किए हैं।
इस पहल के लिए रोमन आईएएस की नौकरी तो गौरव ऑनलाइन रियल एस्टेट कंपनी फ्लैटचैट के सीईओ का पद छोड़ रहे हैं। दो और दोस्तों हेमेश व सचिन गुप्ता के साथ मिलकर अनएकेडमी.इन नाम से वेब प्लैटफॉर्म लॉन्च किया है।

 

रोमन कहते हैं डॉक्टरी के दौरान एक गांव में काम किया। हालात देख लगा कि डॉक्टर के तौर पर सब बदलना संभव नहीं। आईएएस बनने की ठानी। वह कहते हैं कि यूपीएससी के लिए कोचिंग के दौरान लगा कि फाइनेंशियली कमजोर बच्चे हों या दूर-दराज इलाकों के बच्चे, सब तक क्वालिटी एजुकेशन की समान पहुंच ही समाज को बदल सकती है।
वह कहते हैं क  सिविल सर्विस छोड़ने का फैसला कठिन था। हमारी पहल एजुकेशन की तस्वीर बदलेगी।

भास्कर डॉट कॉम से साभार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*