पांच सितंबर से मिशन यूपी, भाजपाइयों का करेंगे बहिष्कार

पांच सितंबर से मिशन यूपी, भाजपाइयों का करेंगे बहिष्कार

किसानों ने आज एलान कर दिया कि हरियाणा-पंजाब की तरह ही यूपी में भी तीव्र आंदोलन होगा। 5 सितंबर को ऐतिहासिक महापंचायत होगी। फिर शुरू होगा खेला।

कुमार अनिल

आज संयुक्त किसान मोर्चा ने बड़ा एलान किया। मोर्चा ने कहा कि पांच सितंबर को मुजफ्फरनगर में ऐतिहासिक किसान महापंचायत होगी। उसकी तैयारी गांव-गांव में हो रही है। महापंचायत में मुजफ्फरनगर के आसपास के जिलों के किसान भी पहुंचेंगे। किसानों ने कहा कि पूरे आंदोलन को मिशन यूपी नाम दिया गया है। याद रहे कुछ दिन पहले यूपी भाजपा ने एक कार्टून ट्वीट किया था, जिसमें एक पिटा हुआ बाहुबली किसान से कहा रहा है कि लखनऊ मत जइयो, वहां योगी है। किसानों ने इस चुनौती को स्वीकार करते हुए आज मिशन यूपी का एलान कर दिया।

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने एक वीडियो जारी करके पूरी रणनीति सबके सामने रख दी है। उन्होंने कहा कि हरियाणा-पंजाब की तरह ही टॉल फ्री किए जाएंगे। उन्होंने सबसे बड़ा एलान यह किया कि गांव-गांव में भाजपा नेताओं का बहिष्कार होगा। इसी तरह का आंदोलन उत्तराखंड में भी होगा।

अब इस बात पर चर्चा हो रही है कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ क्या करेंगे? क्या वे भी खट्टर सरकार की तरह किसानों की राह में बड़े-बड़े पत्थर रखेंगे, सड़कें खोद डालेंगे या पुलिस बल का सहारा लेंगे। अगर यूपी की योगी सरकार ऐसा कुछ करती है, तो टकराव की स्थिति उत्पन्न होगी।

यूपी में अगले साल चुनाव है। इस लिहाज से किसान आंदोलन का यह दौर महत्वपूर्ण है। योगेंद्र यादव ने कहा कि पूरे यूपी के हर मंडल में किसानों की सभा होगी। इसका मतलब है कि किसान पूरे यूपी को राजनीतिक तौर पर अपने पक्ष में करने की योजना पर काम कर रहे हैं। बड़ा सवाल यही है कि योगी सरकार क्या करेगी?

मांझी गरजे- Pegasus जांच हो, आधा एनडीए राजद के साथ

किसान नेता राकेश टिकैत पहले भी कहते रहे हैं कि सरकार सिर्फ वोट की भाषा समझती है। हम उसी भाषा में जवाब देंगे।

JMM में जश्न, सोरेन ने खजाना खोला, भाजपा ने की खानापूर्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*