Owaisi का सनसनीखेज दावा,चीन ने किया भारतभूमि पर कब्जा

AIMIM के अध्यक्ष Asaduddin Owaisi ने पूर्व सैन्य अधिकारियों के हवाले से दावा किया है कि चीन ने भारत की भूमि पर कब्जा कर लिया है.

chinies troops- representative image

ओवैसी ने पीएम मोदी से पूछा है कि वह इस मामले में देश को सच्चाई बतायें. उधर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पूछा है कि क्या भारत सरकार बतायेगी कि चीन ने भारत में प्रवेश नहीं किया है.

AIMIM के नेता Asaduddin Owaisi ने प्रेस कांफ्रेंस में पूछे गये एक सवाल के जवाब में कहा कि चीन के पांच हजार सैनिक भारत की भूमि पर न सिर्फ कब्जा कर चुके हैं बल्कि वे वहां बंकर भी बना रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत के अनेक रिटायर्ड सैन्य अधिकारी यह बात कह रहे हैं.

तो क्या पाकिस्तान ने चीन से रुकवा दिया भारत आने वाली नदी का पानी ?

Asaduddin Owaisi ने कहा कि प्रधान मंत्री मोदी को इस मामले में देश को भरोसे में लेना चाहिए. उन्होंने कहा कि सरकार कह रही है कि चीन से बात चल रही है. भई क्या बात चल रही है यह तो बताइए. उन्होंने कहा कि अगर ऐसी स्थिति किसी अन्य पड़ोसी देश के साथ हुई होती तो भाजपा के नेता तूफान मचा देते. लेकिन चीन के मामले में वे खामोश क्यों हैं.

उधर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्विटर पर Times of India की एक खबर पोस्ट करते हुए लिखा है कि क्या भारत सरकार आश्वस्त करेगी कि चीन के सैनिक भारत की सीमा में प्रेवेश नहीं किया है?

उधर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का हवाला देते हुए टाइम्स ऑफ इंडिया के पत्रकार रजत पंडित ने लिखा है कि बकौल राजनाथ सिंह चीन के सैनिक अच्छी-खासी संख्या में हाई अल्टिच्यूड रीजन में मौजूद हैं.

रक्षा मंत्री ने पिछले हफ्ते कहा था कि चीन की पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी ( PLA) के सिपाही अपने वास्तविक पोजिशन से इस बार कुछ ज्यादा आगे आ चुके हैं.इस कारण स्थितियां कुछ बदल गयी हैं.

चीन ने रचा एक और इतिहास विश्व के सबसे ऊंचे व लम्बे सुरंग की कर दी शुरआत

टाइम्स ऑफ इंडिया ने लिखा है कि रक्षा मंत्री ने यह नहीं बताया कि चीन के कितने सैनिकों ने एलओसी के कितने अंदर घुसपैठ की है. उन्होंने कहा कि राजनयिक और सैन्य स्तर पर इस विवाद को सुलझाने का प्रयास किया जा रहा है.

गौरतलब है कि 2017 में भी डोकलाम में 73 दिनों तक चीन के साथ तनाव की स्थिति बनी हुई थी.

इससे पहले टाइम्स ऑफ इंडिया ने ही यह रिपोर्ट की थी कि चीनी सैनिक भारत की सीमा में 1-3 किलो मीटर अंदर घुस आये हैं.

चीनी सैनिक, भारत द्वारा 255 किलोमीटर लम्बी दारबुक-दौलतबेग सड़क निर्माण का विरोध कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*