जनता दल राष्ट्रवादी का बड़ा ऐलान, कहा अमीर ए शरिअत की सरपरस्ती में बने सियासी मोर्चा

अशफाक रहमान व मौलाना वली रहमानी

जनता दल राष्ट्रवादी के राष्ट्रीय संयोजक अशफाक रहमान ने इमारत शरिया के अमीर मौलाना वली रहमानी को प्रस्ताव दिया है कि उनके  नेतृत्व में राजनीतिक मोर्चा का गठन हो. रहमान ने अमीर ए शरिअत के उस बयान का स्वागत किया है जिसमें उन्होंने सियासत को ‘प्रतिबंधित फल’ मानने से इनकार कर दिया था.

याद रहे कि बीते दिनों नौकरशाही डॉट कॉम ने अपने एक्सक्लुसिव खबर में बताया था कि इमारत शरिआ राजनीतिक दल के गठन पर गहन मंथन कर रही है.

जनता दल राष्ट्रवादी के नेता का बयान इस संदर्भ में काफी महत्वपूर्ण है. रहमान ने अपने बयान में कहा है कि जनता दल राष्ट्रवादी( जेडीआर) के गठन का उद्देश्य ही यही है कि हम अपनी सियासत और अपनी कयादत को मजबूत करें और अब तो जो पार्टियां हमारे वोट का इस्तेमाल करती आयी हैं उन्हें हम अपनी ताकत का एहसास करायें. रहमान ने मौलाना रहमानी के स्टैंड की प्रशंसा करते हुए कहा कि सियासत से किसी भी हाल में गुरेज नहीं किया जा सकता लेकिन दीन बचाओ देश बचाओ कांफ्रेंस के दौरान ही अगर मौलाना रहमानी ने सियासत के सबंध में अपने नजरिया को स्पष्ट कर दिया होता तो ज्यादा अच्छा होता.

पढ़ें- एक्सक्लुसिव- इतिहास बनाने के बाद इतिहास दोहराने को तैयार इमारत शरिआ, बना सकती है पॉलिटकल पार्टी

अशफाक रहमान ने याद दिलाया कि मुसलमानों की बिहार में 22 प्रतिशत आबादी है और इस समाज के 17 प्रतिशत वोटर्स हैं. 17 प्रतिशत वोटर्स अपना नेतृत्व विकसित करने के लिए काफी है. उन्होंने कहा कि आज हम इस बात को अवाम में कह सकते हैं कि अमीर ए शरिअत हमारे साथ हैं और पूरा समाज भी. अशफाक रहमान ने कहा कि अमीर ए शरिअत की सरपरस्ती में  सियासी नेतृत्व की बात चलनी चाहिए.

अशफाक रहमान ने अपने बयान में कहा कि  अगर हम किसी सियासी पार्टी में शामिल होते हैं तो वे किसी कीमत पर हमारे नेतृत्व को स्वीकार नहीं कर सकते. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सबसे ज्यादा नुकसान मुसलमानों का किया है और उसके शासन में सबसे ज्यादा मुसलमानों का कत्ल ए आम हुआ है. रहमान ने कहा कि अगर हम एक हो गये तो दूसरी बिरादरियां खुद ब खुद हमारे साथ आ जायेंगी.

अशफाक रहमान ने अमीर ए शरिअत से गुजारिश की है कि अगर वह अपनी सियासी सरपरस्ती देते हैं तो जनता दल राष्ट्रवादी हर तरह से उनका सहयोग करने को तैयार है.

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*