अतिपिछड़ा समाज की सरपंच बिंदु रिहा, ग्रामीणों ने किया स्वागत

अतिपिछड़ा समाज की सरपंच बिंदु रिहा, ग्रामीणों ने किया स्वागत

सारण की सरपंच बिंदु देवी रिहा हो गईं। उनकी रिहाई पर ग्रामीणों ने जगह-जगह फूल-मालाओं से किया स्वागत। बिंदु ने कहा-अन्याय के खिलाफ लड़ती रहूंगी।

सगुनी की सरपंच बिंदु देवी को आज जेल से रिहा किया गया। उनको एडीजे कोर्ट से 22 को जमानत मिल गयी थी। कागजी करवाई पूरा होने के बाद आज उन्हें रिहा किया गया।

रिहा होने पर होने पर ग्रामीणों ने उनका अनेक स्थानों पर भव्य स्वागत किया। बिंदु देवी ने लोगों को आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह न्याय और अन्याय के बीच की लड़ाई है। पंचायती राज में ग्राम कचहरी के माध्यम से मिले अधिकारों का प्रयोग करते हुए मैंने सदैव गाँव के लोगो को सस्ता न्याय दिलाने के कोशिश की। मैं अन्य महिला जन प्रतिनिधियों की तरह डम्मी जनप्रतिनिधि बनने के बजाय खुद ही ग्राम कचहरी सन्चालन किया। मैंने सरपंच की गरिमा का सम्मान करते हुए थाने की दलाली नही की, इसी से कारण भयभीत लोग जो गाँव में दो घरों के झगड़े में केस कराकर थाने व कोर्ट कचहरी में दलाली करते है मुझे षड्यन्त्र के तहत फर्जी मुकदमें में फँसवाये।
मैं सच्ची थी और बगैर किसी जुर्म के पुलिस उत्पीड़न का शिकार बनी। मेरे खिलाफ हुए अन्याय को देखकर अपने पंचायत सगुनी और अपना क्षेत्र छोड़िए राज्य भर के न्याय पसंद लोग औऱ समाजिक सन्गठन लगातार संघर्ष किए मैं सगुनी की जनता व इस संघर्ष में साझीदार लोगों का आभार व्यक्त करती हूँ। भ्रष्टाचार व अन्याय के खिलाफ न्याय के लिए सदैव लड़ती रहूँगी।

विदित हो कि विगत 24 अक्टूबर को दो लोगों के झगड़े में इनका नाम शामिल कर परसा पुलिस जेल भेज दी थी। इसके खिलाफ पटना में धरना, प्रदर्शन पटना से परसा तक कि पैदल यात्रा, छपरा में धरना इत्यादि कार्यक्रम हुए।
आज जेल से रिहा होने पर सोनहो के पास टोल प्लाजा पर भारी संख्या में समर्थक जूटकर उनका स्वागत किए। वहां से पैदल ही सैकड़ो लोग उनके घर तक चल दिए। सगुनी पंचायत के अनेक स्थान पर लोग उनको माला पहनाकर फूलों की वर्षा कर स्वागत किए।

भाजपा के होश उड़े, कानपुर में नड्डा की सभा फ्लॉप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*