ऑटोचालक जावेद ने जो किया, वह बड़े-बड़े नहीं कर सकते

ऑटोचालक जावेद ने जो किया, वह बड़े-बड़े नहीं कर सकते

आज सोशल मीडिया पर ऑटोचालक जावेद ट्रेंड कर रहे हैं। उन्होंने वो किया, जिसे बड़े-बड़े पैसेवाले, बड़े पदों पर बैठे लोग भी करने की हिम्मत नहीं कर पाएंगे।

आपको पास करोड़ रुपए हैं, तो आप महामारी में लाख खर्च कर सकते हैं, लोग कर भी रहे हैं और इसे अच्छा कार्य कहा जाएगा, लेकिन ऑटोचालक जावेद ने जो किया वह नजीर है।

जावेद मध्यप्रदेश के भोपाल में ऑटोचालक हैं। वे देख रहे थे कि लोग एंबुलेंस के लिए कितने परेशान हैं। एंबुलेंस मिलती नहीं और अगर मिली तो पांच हजार-दस हजार रुपए लेते हैं। मरीज से भी लूट रहे हैं।

उन्होंने एक बड़ा फैसला लिया। पत्नी से बात की और उनकी सहमति से उनके सारे जेवर बेच दिए। जाकर ऑक्सीजन सिलिंडर की लाइन में लग गए। ऑक्सीजन लिया और अपने ऑटो को एंबुलेंस बना दिया। वह भी फ्री सेवा।

21 दिन में कोरोना पर जीत के दावे जैसा 18+ का टीकाकरण!

वे यह कार्य पिछले 20 दिनों से कर रहे हैं। आज एनडीटीवी ने उनकी कहानी ट्विट की। न्यूज एजेंसी एएनआई ने भी उनकी तस्वीर ट्विट की। इसके बाद तो घंटेभर में ही जावेद सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगे। जावेद कहते हैं, उनका फोन नंबर सोशल मीडिया पर है, जिन्हें भी अस्पताल जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिल रहा है, वे संपर्क कर सकते हैं। वे अस्पताल ले जाने के लिए कोई चार्ज नहीं करते।

द टाइम की पत्रकार राना अयूब, जिनकी स्टोरी इंडिया इन क्राइसिस-इस बार टाइम पत्रिका की कवर स्टोरी बनी है, ने ट्विट किया-थैंक्यू जावेद भाई, आप सच्चे हीरो हैं।

महामारी में सीएम सब्जी बिकवा रहे, राजद ने कहा, क्या मजाक है!

सोशल मीडिया पर हर कुछ सेकेंड में एक ट्विट जावेद खान के लिए आ रहा है। लोग कह रहे हैं कि इस महामारी में जब अपने भी देखने नहीं आ रहे, तब जावेद भाई का यह कार्य सराहनीय है।

विशाल सावंत ने ट्विट किया-हमारे स्टार खिलाड़ी और बालीवुड के स्टार नहीं, असली हीरो जावेद भाई और उनके जैसे लोग हैं, जो दिन-रात लोगों की सेवा कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*