आजम खान को सजा, सपा चुप, राजद ने संभाला मोर्चा

आजम खान को जेल, सपा चुप, राजद ने संभाला मोर्चा

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान को हेट स्पीच के एक मामले में अदालत ने तीन साल की सजा सुनाई। आश्चर्य कि सपा में चुप्पी है। राजद ने भाजपा को घेरा।

यूपी की एक अदालत ने हेट स्पीच के तीन साल पुराने मामले में समाजवादी पार्टी के प्रमुख नेता आजम खान को तीन साल की सजा सुनाई। साथ ही 25 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया। सबसे आश्चर्य कि समाजवादी पार्टी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, जबकि राजद ने तंज कसते हुए भाजपा को घेरा है।

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने 2019 में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर टिप्पणी की थी। रामपुर अदालत में तभी से मामला चल रहा था। सजा तीन साल की सुनाई गई है, जिसका अर्थ है कि आजम खान की विधानसभा सदस्यता जानी तय है। फिलहाल अदालत ने उन्हें जमानत दे दी है। वे अब इस फैसले के खिलाफ ऊपरी अदालत में जाएंगे।

समाजवादी पार्टी ने अपने नेता आजम खान को सजा दिए जाने पर कोई ट्वीट तक नहीं किया। पार्टी ने भाई दूज तथा अन्य मामलोंं में ट्वीट किया है, पर आजम खान को सजा मामले पर मौन बनाए रखा है।

इधर राजद सांसद मनोज झा ने तंज कसते हुए कहा-हेट स्पीच में सज़ा भी होती है क्या? अब तक तो रवायत यही रही कि हेट स्पीच की श्रृंखलाएं परोस परोस कर लोग ओहदेदार होते रहे हैं…विलियम शेक्सपियर साहब से माफ़ी के साथ…’नाम’ का बड़ा फर्क पड़ता है जी….जय हिन्द

सोशल मीडिया पर इस मामले में लगातार प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। लोग बता रहे हैं कि भाजपा के नेता इससे कहीं ज्यादा भड़काऊ भाषण देते हैं, लेकिन उन्हें सजा नहीं मिलती, बल्कि पुरस्कार मिलता है। गोली मारो सालों को नारा लगानेवाले नेता किस पद पर हैं, सभी जानते हैं। अभी हाल में भाजपा के सांसद प्रवेश वर्मा ने मुसलमानों के खिलाफ जहर उगलते हुए उनसे सामान नहीं खरीदने, मजदूरी नहीं कराने की बात बोलने वाले पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

इस बीच सपा प्रमुख अखिलेश यादव को चुनाव आयोग ने नोटिस देकर जवाब मांगा है। अखिलेश ने पिछले चुनाव में कहा था कि उनके समर्थकों के नाम जानबूझकर मतदाता सूची से काट दिया गया है।

इस बार त्रिपुरा में मंत्री के बेटे पर रेप का आरोप, बचाव में उतरी भाजपा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*