भागलपुर एनटीपीसी ने कोयले का संकट, उत्‍पादन प्रभावित

भागलपुर जिले में कहलगांव स्थित देश की सबसे बड़ी ऊर्जा कंपनी राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (एनटीपीसी) की 2340 मेगावाट क्षमता वाले बिजली संयंत्र मे कोयले की कमी से विद्युत उत्पादन प्रभावित होने लगी है।


आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि बारिश की वजह से ईस्टर्न कोल फिल्ड लिमिटेड (ईसीएल) की राजमहल परियोजना में खनन कार्य बाधित होने के कारण वहां से कहलगांव बिजली संयंत्र को पर्याप्त मात्रा में कोयले की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। इसके कारण यहां का कोयला भंडार का घटकर करीब एक लाख साठ हजार मिट्रिक टन रह गया है।
सूत्रों ने बताया कि इस संयंत्र की सभी सातों इकाइयों के परिचालन के लिए प्रतिदिन करीब 45 हजार मिट्रिक टन कोयले की जरूरत होती है लेकिन ईसीएल से अभी करीब 25 हजार मिट्रिक टन ही कोयले की आपूर्ति हो पा रही है। ऐसे में जरूरत के मुताबिक कोयला नहीं मिलने से संयंत्र के स्टॉक में रखे कोयले की खपत परिचालन मे की जा रही है। सूत्रों ने बताया कि इस वजह से स्टॉक में रखे कोयले की कमी होने और ईसीएल से प्रतिदिन आवशयकता के अनुसार कोयला नहीं मिलने के कारण यहां विद्युत उत्पादन प्रभावित होने लगी है।
कोयले की कमी को देखते हुए 210 मेगावाट की चौथी इकाई वार्षिक रखरखाव के लिए बंद रखी गई है और इसकी तीसरी इकाई को कल रात से बंद कर दिया गया है। इस तरह अभी केवल पांच इकाइयों से करीब 1720 मेगावाट विद्युत का ही उत्पादन हो रहा है।
सूत्रों ने बताया कि यदि शीघ्र इस संयंत्र के कोयला संकट को दूर नहीं किया जायेगा तो अन्य इकाइयां भी बंद हो सकती है। संयंत्र के सुचारू रूप से परिचालन के लिए ईसीएल से पर्याप्त कोयले की आपूर्ति शीघ्र सुनिश्चित करने का पत्राचार ईसीएल प्रबंधन से किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*