भक्त पत्रकार तवलीन सिंह को कांग्रेस ने कैसे ला दिया घुटनों के बल

भक्त पत्रकार तवलीन सिंह को कांग्रेस ने कैसे ला दिया घुटनों के बल

नामी पत्रकार तवलीन सिंह ने कहा कि मनमोहन सिंह देश के गुप्त दस्तावेज पर हस्ताक्षर से पहले सोनिया के पास ले जाते थे। कांग्रेस ने ला दिया घुटनों के बल।

कांग्रेस पर जो मर्जी सो बल कर निकल जाने वाले पत्रकार आजकल परेशानी में हैं। नामी अंग्रेजी पत्रकार तवलीन सिंह ने एक टीवी डिबेट में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर गंभीर आरोप लगा दिया। कहा कि मनमोहन सिंह देश की गुप्त फाइलें तब की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के पास लेकर गए। कहने का अर्थ की मनमोहन सिंह फाइलों पर हस्ताक्षर से पहले सोनिया गांधी को दिखाया करते थे।

पहले वाली कांग्रेस ऐसे आरोपों पर चुप रह जाती थी। लेकिन कांग्रेस अब नई कांग्रेस है। उसने इस आरोप पर कहा कि या तो आरोप को प्रमाणित करें या कोर्ट में आने को तैयार रहे। इस एक लाइन के जवाब से ही मशहूर पत्रकार तवलीन सिंह घुटनों के बल आ गईं।

सबसे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने विरोध जताया। उन्होंने लिखा-कल इंडिया टुडे के एक टीवी शो में एक वरिष्ठ पत्रकार ने डॉ. मनमोहन सिंह पर बेतुका और अपमानजनक आरोप लगाया। उन्होंने आरोप लगाया कि ‘ऑफिसियल सीक्रेट एक्ट’ के उल्लंघन में PMO की गुप्त फाइलें कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी के पास ले जाया गया।

इसके बाद कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने दो टूक शब्दों में कहा-तवलीन सिंह या तो सबूत पेश करें या आगे की क़ानूनी कार्यवाही के लिए तैयार रहें। बहुत बर्दाश्त कर लिया है। अब यह बकवास नहीं चलेगी। तुरत अन्य प्रवक्ताओं ने भी कहा कि वे बरदाश्त नहीं करेंगे। कोर्ट जाएंगे।

इसके बाद देर नहीं हुई। तवलीन सिंह की बोली बदल गई। उन्होंने एक तरह से माफी मांगते हुए घुटने टेक दिए। लिखा कि वे सोनिया गांधी का बहुत सम्मान करती हैं। मेरे मन में सोनिया गांधी के प्रति कोई नफरत नहीं है। मैं समझती हूं कि वे बेहद सफल राजनीतिज्ञ हैं, जिन्होंने बिना किसी उत्तरदायित्व के बड़ी शक्ति का प्रबंध किया। यह सचमुच में किसी राजनीतिज्ञ के लिए महत्वपूर्ण योग्यता है।

इसके बाद कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने लिखा कि स्वर बदल गए हैं, लेकिन साफ-साफ माफी मांगिए। तय आपको करना है। माना जा रहा है कि कांग्रेस बहुत जल्द तवलीन सिंह को कानूनी नोटिस देगी। संदेश साफ है, सत्ता के प्रति समर्पण दिखाने के लिए कांग्रेस पर कुछ भी बोल देनेवाले पत्रकार संभल जाएं। नहीं संभले, तो जेल जाने को तैयार रहें।

आनन-फानन में बनाया EBC आयोग, पिछड़े मुस्लिमों से एक भी नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*