भारत जोड़ो : लाखों लोग घंटों चल रहे, कई दलों की नींद हराम

भारत जोड़ो : लाखों लोग घंटों चल रहे, कई दलों की नींद हराम

भारत जोड़ो यात्रा में शनिवार को कर्नाटक में, रविवार को तेलंगाना में लाखों लोग घंटों पैदल चले। कई वीडियो वायरल। भाजपा सहित कुछ विपक्षी दल भी परेशान।

केरल में जब लाखों की भीड़ भारत जोड़ो यात्रा के साथ चली, तो कई ने कहा कि केरल में कांग्रेस का प्रभाव है। कर्नाटक में पता चलेगा। लेकिन कर्नाटक में भी कई अवसरों पर भीड़ लाख से ज्यादा दिखी। शनिवार को कर्नाटक तथा रविवार को तेलंगाना में लाखों की भीड़ राहुल गांधी के पीछे चलती दिखी। देश का नेशनल मीडिया भले ही न दिखाए, पर सोशल मीडिया पर ऐसे वीडियो वायरल हैं। ये भीड़ भाजपा समर्थकों को ही नहीं, दक्षिण भारत के कई विपक्षी दलों को भी परेशान करनेवाले हैं।

केरल में भारत जोड़ो यात्रा को भारी समर्थन मिला, तब कई विशेषज्ञ मान रहे थे कि वहां कांग्रेस का आधार है। भाजपा कमजोर है। असली परीक्षा भाजपा शासित राज्य में होगी। अब यात्रा ने कर्नाटक को पार कर लिया है। कर्नाटक में भाजपा की सरकार है और कल आखिरी दिन वहां जो भीड़ उमड़ी वह चौंकानेवाली है। आज तेलांगाना में भी लाखों की संख्या में लोग राहुल गांधी के पीछे चलते रहे।

भीड़ का चरित्र भी ध्यान खींचनेवाला है। सरकारी बसों को जब्त करके उसमें आंगनबाड़ी सेविकाओं, कर्मियों को ढोकर लाई भीड़ के चरित्र और भारत जोड़ो यात्रा के साथ चल रही भीड़ में बुनियादी फर्क है। भारत जोड़ो यात्रा के साथ चल रहे लोगों का उत्साह देखा जा सकता है। यह उत्साह ढोकर लाई भीड़ में कदापि नहीं हो सकती।

भाजपा समर्थक अब राहुल गांधी को पप्पू नहीं कह पा रहे। यह भी नहीं कह पा रहे कि भीड़ प्रायोजित है। लगातार और रोज लाखों लोगों को प्रायोजित करके रैली में लाना संभव नहीं है। यह तभी संभव है, जब आम लोग खुद शामिल हों।

कांग्रेस के मजबूत होना न सिर्फ भाजपा के लिए परेशानी का कारण है, बल्कि कई विपक्षी दलों को भी परेशान करने वाला है। तेलांगना के बाद भारत जोड़ो यात्रा महाराष्ट्र में प्रवेश करेगी। वहां उद्धव ठाकरे और शरद पवार यात्रा में प्रतिकात्म तौर पर शामिल हो सकते हैं।

भारत जीता, पहले तेजस्वी ने दी बधाई, राहुल ने कही खास बात

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*