भारत जोड़ो आंदोलन के पहले दिन ही सोनिया-राहुल को ईडी नोटिस

भारत जोड़ो आंदोलन के पहले दिन ही सोनिया-राहुल को ईडी नोटिस

आज ही के दिन कांग्रेस ने अपने राष्ट्रव्यापी भारत जोड़ो आंदोलन की शुरुआत की और आज ही केंद्रीय एजेंसी ईडी ने सोनिया गांधी-राहुल गांधी को नोटिस भेजा।

कह नहीं सकते कि यह संयोग है प्रयोग, आज ही के दिन कांग्रेस ने देशभर में भारत जोड़ो आंदोलन की शुरुआत की और आज ही केंद्रीय एजेंसी ईडी ( प्रवर्तन निदेशालय) ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को नोटिस थमा दिया है। उन्हें पूछताछ के लिए 8 जून को बुलाया है। कांग्रेस ने बिना देर किए कहा कि पार्टी डरनेवाली नहीं है।

उदयपुर घोषणा पर अमल करते हुए आज कांग्रेस ने देशभर में भारत जोड़ो आंदोलन की शुरुआत की। बिहार सहित सभी राज्यों में आज से दो दिवसीय नव संकल्प कार्यशाला शुरू हुई, जिसमें भारत जोड़ो आंदोलन की सफलता पर चर्चा शुरू हुई। 11 जून को हर जिले में कार्यशाला, धरना-प्रदर्शन होंगे। 9 अगस्त 15 अगस्त तक आजादी गौरव यात्रा होगी और 2 अक्टूबर से कन्याकुमारी से कश्मीर तक की पदयात्रा शुरू होगी। कांग्रेस के अभियान शुरू होने के दिन ही दोनों बड़े नेताओं को नोटिस भेजा गया है।

इस बीच कांग्रेस ने ईडी के नोटिस पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। कांग्रेस प्रवक्ता सूरजेवाला ने कहा कि नेशनल हेराल्ड मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व राहुल गांधी को ED द्वारा नोटिस जारी करवाया है। इस बात से यह साफ है कि “तानाशाह डर गया है।” उन्होंने यह भी कहा कि आज के दौर में अंग्रेजी हुकूमत का समर्थन करने वाली विचारधारा आजादी के आंदोलन को दबाने का घिनौना षड्यंत्र कर रही है। इस षड्यंत्र के मुखिया स्वयं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं और उनका हथियार उनका चहेता ED है। कांग्रेस ने कहा किजब कांग्रेस अंग्रेज हुकूमत के अत्याचारों से नहीं डरी, तो ED का नोटिस सोनिया गांधी जी, राहुल गांधी जी और कांग्रेस पार्टी की हिम्मत को क्या ख़ाक तोड़ पाएगा। हम लड़ेंगे…हम जीतेंगे…हम झुकेंगे नहीं…हम डरेंगे नहीं। 

Breaking : लालू ने तेजस्वी के हवाले की राजद की कमान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*