बरौनी रिफाइनरी के मजदूरों ने फूका संघर्ष का बिगुल, रामलखन सिंह ने संभाली कमान

बरौनी रिफाइनरी के मजदूरों ने फूका संघर्ष का बिगुल, रामलखन सिंह ने संभाली कमान

श्रमिक विकास परिषद  की बैठक में नेताओं ने कहा कि कामगारों के एकजुटता से ही समस्या का समाधान सम्भव है।

*शिवानन्द गिरि*

बेगुसराय-बरौनी रिफाइनरी के कल्याण केंद्र में  भारतीय मजदूर संघ से जुड़े  श्रमिक विकास परिषद के पदाधिकारियों एवं प्रमुख कार्यकर्ताओं की आवश्यक बैठक हुई जिसकी अध्यक्षता श्रमिक विकास परिषद के पूर्व अध्यक्ष बेगूसराय के पूर्व विधायक श्रीकृष्ण सिंह ने की जबकि संचालन बीएमएस जिला मंत्री सुनील कुमार सिंह ने की।

 बैठक में मुख्य रूप से भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय मंत्री विनय कुमार सिन्हा, बीएमएस प्रदेश महामंत्री उमाप्रसाद वाजपेयी, ग्रामीण कृषि मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय महामंत्री गंगा राय, बीएमएस जिला अध्यक्ष रामजी प्रसाद, भाजपा प्रदेश मंत्री व वरिष्ठ नेता रामलखन सिंह, भाजपा नेता हीरा पोद्दार, श्रमिक विकास परिषद के अध्यक्ष रविशंकर सिंह, प्रमोद राम, समरसता के प्रांत प्रमुख लल्लू बाबू सहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित हुए। भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय मंत्री विनय कुमार सिंहा ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश बेगूसराय में भारतीय मजदूर संघ का सबसे मजबूत संगठन है जहां धरातल पर मजदूर हितों की हमेशा संघर्ष के माध्यम से अपनी आवाज उचित स्थान तक पहुंचा कर श्रमिकों का कल्याण किया जाता है। श्रमिक विकास परिषद की चर्चा करते हुए कहा उन्होंने कहा कि संघ बड़ा होता है व्यक्ति नहीं।

संघ का हुआ पुनर्गठन

कुछ गलतफहमी अगर होगा तो वैसे लोग अपने मन से भ्रम दूर कर लें। इसके अलावा प्रदेश महामंत्री उमा प्रसाद बाजपेयी ने संगठन की मजबूती एवं आगे होने वाले चुनाव के दृष्टिकोण से संगठन में कुछ फेरबदल करते हुए प्रमोद राम को श्रमिक विकास परिषद का महामंत्री,  रवि शंकर सिंह व जितेंद्र कुमार को अध्यक्ष तथा कोषाध्यक्ष  का  कमान सौंपा गया। इसके अलावा कमेटी का विस्तार किया गया। उन्होंने आशा व्यक्त क्या कि आगे आने वाले दिनों में सूरज भवन पर केसरिया ध्वज एक बार फिर से लहराएगा।
भाजपा प्रदेश मंत्री राम लखन सिंह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए श्रमिक विकास परिषद के पूर्व महामंत्री प्रवेंद्र कुमार की गतिविधियों की आलोचना करते हुए कहा कि ऐसे व्यक्ति का संघ में कोई जगह नहीं होना चाहिए जो हमेशा जालफरेब करने में व्यस्त हो और फेक न्यूज़ चला कर श्रमिकों को गुमराह करता हो। उन्होनें कहा कि  यदि संगठन के नेता ठीक से कामगारों की समस्या के लिये संघर्ष करेँगे तो वो दिन दर नही जब एक बार फिर से सूरज भवन पर  केसरिया फहराएगा।
श्री सिंह ने कहा कि कामगारों के सुख -दुख में शामिल हो ,उनकी समस्याएँ सुलझाने का प्रयास करें तो संगठन में न सिर्फ मजबूती आयेगी बल्कि विस्तार भी होगा। इस अवसर पर जिला मंत्री सुनील कुमार सिंह ने कहा कि ईएसआई अस्पताल बेगूसराय में खुलने मे हो रही देरी इसके से मन्दुरों मे निराशा हो रही है।इसलिए जिलाधिकारी से अतिशीघ्र जमीन आवंटन करने की दिशा में पहल करने की माँग की जायेगी अन्यथा संघ आंदोलन करने की बाध्य होगा।श्रमिक विकास परिषद के पूर्व अध्यक्ष श्रीकृष्ण सिंह ने भी कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले संगठित रहने की अपील की।
इस अवसर पर बिहार प्रदेश भवन एवं पथ निर्माण मजदूर संघ के जिला अध्यक्ष रामकुमार महर्षि, गंगा रॉय,भाजपा नेता हीरा पोद्दार, विद्युत श्रमिक संघ के पूर्व महामंत्री निरंजन सिंह, बरौनी खाद प्रतिष्ठान के अध्यक्ष रणवीर कुमार सिंह, बीएमएस उपाध्यक्ष राजकुमार झा आदि ने सम्बोधित किया।बैठक में सैकड़ों की संख्या में बरौनी रिफाइनरी के कर्मचारी और संगठन केनेता व कार्यकर्ता,समाजसेवी मौजूद थे। अंत में धन्यवाद ज्ञापन बीएमएस जिला अध्यक्ष रामजी प्रसाद ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*