नीतीश ने जमुई में की चुनावी सभा, चिराग का पलटवार उन्हें हरगिज़ जीतने नहीं देंगे

नीतीश ने जमुई में की चुनावी सभा, चिराग का पलटवार उन्हें हरगिज़ जीतने नहीं देंगे

शाहबाज़ की विशेष रिपोर्ट

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज चिराग पासवान के संसदीय क्षेत्र जमुई में चुनावी सभा की. वहीं लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग ने उनके खिलाफ अब तक का सबसे बड़ा हमला किया है, उन्होंने मुख्यमंत्री पर पिता के अपमान का आरोप लगाकर कहा किसी भी कीमत पर उन्हें जीतने नहीं देंगे. नीतीश जीत जीत गए तो जनता कभी मुझे माफ़ नहीं करेगी.

समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए इंटरव्यू में लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने आरोप लगाया कि सीएम नीतीश कुमार ने एलजेपी के संस्थापक रामविलास पासवान का अपमान किया है. बता दें कि सीट बटवारे की घोषणा को लेकर एनडीए द्वारा आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में नीतीश ने लोजपा पर तंज़ किया था कि जदयू के समर्थन के बिना दिवंगत रामविलास राज्यसभा के लिए निर्वाचित नहीं हो सकते थे. चिराग ने जवाब दिया कि मेरे पिता को तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राज्यसभा में सीट देने का वादा किया था.

लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत बिहार के जमुई से हुई थी. वह जमुई लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद हैं. साल 2014 में पहली बार चिराग जमुई से सांसद चुने गए थे. इसके बाद उन्होंने 2019 लोक सभा चुनाव में भी इसी सीट से सांसद हैं.

इधर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज जमुई में चुनावी सभा कर कहा कि हमने क्राइम, कम्युनलिज़्म और करप्शन से कभी समझौता नहीं किया। बिहार में हर प्रकार से विकास का काम हुआ है. भला पहले कोई शाम होने के बाद घर से निकल पाता था. आज उन्होंने जमुई समेत चार चुनावी सभाएं की. बता दें कि मुख्यमंत्री 12 अक्टूबर से ही चुनावी सभाएं कर रहे हैं.

चिराग ने एनडीए गठबंधन से अलग होने की वजह बताते हुए कहा कि लोजपा कभी भी नीतीश कुमार की राजनीति की प्रशंसक नहीं रही है. उन्होंने अपने राजनीतिक लाभ के लिए बिहार के दलितों को नुकसान पहुंचाया है.

चिराग ने कहा कि नीतीश बिहार को लैंड लॉक्ड प्रदेश बताकर कह रहे कि औद्योगिक विकास संभव नहीं. जब बिहार जैसे दूसरे राज्य दिल्ली, पंजाब और हरियाणा, मध्य प्रदेश में उद्योगों का विकास कैसे हुआ. जब मुख्यमंत्री के पास विकास का कोई विजन ही नहीं तो अगले 5 साल का मौका क्यों दिया जाए?

लोजपा अध्यक्ष ने कहा कि नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री रहते विकास होना या बिहार का विकसित होना संभव नहीं है. प्रदेश की जनता ने उन्हें 15 साल दिए. अगर मेरी वजह से नीतीश को 5 साल और मिलते हैं तो मैं अपने आपको कभी माफ नहीं कर पाउंगा.

चिराग पासवान पर जवाबी पलटवार करते हुए जदयू के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी ने कहा कि जो अपने चुनाव प्रचार में नीतीश जी को ले गया हो, उनकी तारीफ की हो तो फिर चार महीने में ऐसा क्या हो गया कि चिराग नीतीश के विरोध में बोलने लगे. चिराग ज़्यादा महत्वाकांक्षी हो रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*