बिहार में फिर नौकरी, मेडल लानेवाले 81 खिलाड़ियों को नियुक्तिपत्र

बिहार में फिर नौकरी, मेडल लानेवाले 81 खिलाड़ियों को नियुक्तिपत्र

बिहार में फिर नौकरी मिलने का सिलसिला जारी है। सवा दो लाख शिक्षकों की नियुक्ति के बाद शनिवार को मेडल लानेवाले 81 खिलाड़ियों को मिला नियुक्तिपत्र।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तथा उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने शनिवार को बिहार के लिए खेलते हुए उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 81 खिलाड़ियों को नियुक्तिपत्र दिए। मेडल लाओ, नौकरी पाओ यौजना के तहत इन सभी खिलाड़ियों को नौकरी दी गई। इस दौरान खेल मंत्री जितेंद्र राय तथा मंत्री विजय कुमार चौधरी भी मौजूद थे। नियुक्ति पत्र पाने के बाद इनके खिल गए।

जिन खिलाड़ियों को नियुक्ति पत्र मिले हैं, उनमें दस खिलाड़ी पुलिस विभाग में योगदान देंगे। इन्हें सब-इंस्पेक्टर के पद पर नियुक्त किया गया है। 17 खिलाड़ियों को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग में लिपिक के पद पर नियुक्त किया गया है। इसके अलावा पंचायती राज विभाग, समाज कल्याण विभाग, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग, लघु जल संसैधन विभाग, अल्पसंख्यक विभाग, खाद्य उपभोक्ता विभाग सहित अन्य विभागों में लिपिक तथा अन्य पदों पर नियुक्त किया गया है।

राज्य सरकार की मेडल लाओ, नौकरी पाओ योजना के तहत नियुक्ति पत्र दिए जाने से खिलाड़ियों में उत्साह देखा जा रहा है। इससे बिहार में खेल को बढ़ावा मिलेगा। अभिभावक भी अपने बच्चों को खेल में कैरियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करेंगे। साथ ही मुख्यमंत्री तथा उप मुख्यमंत्री ने अपने हाथों से इन्हें सम्मानित भी किया। इससे नियुक्ति पाने वाले का हौसला बढ़ा है। खिलाड़ियों को सम्मान मिलने से भी खेल में नई प्रतिभाओं का विकास होगा।

इससे पहले राज्य में पहले सवा लाख शिक्षकों को नियुक्त पत्र दिए गए। फिर एक लाख शिक्षकों की नियुक्ति हुई। कल इसी पर तेजस्वी यादव ने कहा था कि उनकी सरकार नौकरी दे रही है और भाजपा वाले मंदिर के नाम पर इवेंट कर रहे हैं। उन्होंने पूछा कि बीमार पड़ने पर अस्पताल जाओगे या मंदिर। राजद और जदयू के कई नेताओं ने शनिवार को मेडल लाओ नौकरी पाओ योजना के तहत नियुक्त पत्र दिए जाने का स्वागत किया और कहा कि उनकी सराकर युवाओं के भविष्य के बेहतर बनाने के लिए संकल्पित है।

चीन के राजनियक RSS दफ्तर पहुंचे, कांग्रेस ने उठाए तीन सवाल