Waqf Board में सैकड़ों बहालियों की तैयारी

Irshad Ali Azad

बिहार (Bihar) राज्य में अनेक मस्जिदें, कर्बला, इमामबाड़े ऐसे हैं जिनकी देखभाल और साफ सफाई ठीक तरीके से नहीं हो पाती है जिसके कारण उनकी हालत दिनों दिन खराब होती जा रही है। कई जगहों पर न तो साफ सफाई का ख्याल रखा जाता है, न मरम्मत का काम कराया जाता है, और न ही उनका सौंदर्यीकरण होता है।

नागरिकता आंदोलन में शहीद हंजाला के पिता को शिया बोर्ड ने दी घर के लिए जमीन

जिस कारण अनेक धार्मिक स्थल (Religious Places) बर्बाद हो रहे हैं। ये सारे स्थल वक्फ में आते हैं। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए, शिया वक्फ बोर्ड की बैठक में कई अहम फैसले लिये गये। जिसमें उपरोक्त सभी जगहों पर एक खादिम बहाल करने का भी फैसला लिया गया। जिस पर बैठक में मौजूद सभी सदस्यगणों ने अपनी सहमती जताई और इसे जल्द पूरा करने पर चर्चा की गई।

बिहार राज्य शिया वक्फ बोर्ड (Bihar State Shia Board) के अध्यक्ष इरशाद अली आजाद (Irshad Ali Azad) ने ये जानकारियां दीं। उन्होंने बताया कि खादिम बहाल किये जाने से पूरे राज्य में सैकड़ों गरीबों को रोजगार मिलेगा, साथ ही आने वाले समय में अन्य कई जन कल्याण की योजनायें लागू की जायेंगी। जिससे अल्पसंख्यक समाज (Minority Community) को लाभ मिलेगा और रोजगार (Employment) के अवसर में वृद्धि आयेगी।

आजाद ने कहा कि हमारे धार्मिक स्थल से ही हमारी पहचान होती है। उन्होंने बताया कि शिया वक्फ बोर्ड की ओर से पटना सिटी के इन्फैंट जीसस स्कूल में सैकड़ों छात्र छात्राओं को निःशुल्क शिक्षा (Free Education) दी जाती है। पेश ए इमाम एवं मोअज़्ज़िन को मासिक वज़ीफा दिया जा रहा है। बिना धार्मिक भेदभाव के, सभी धर्म एवं समुदाय के लोगों को रहने के लिए, वक्फ लीज़ क़ानून के तहत कानूनी तरीके से मामूली किराये पर जमीन उपलब्ध कराई जाती। है जो अभी लगातार जारी है।

स्वरोजगार (Self Employment) के अवसर को बढ़ाने के लिए जरूरतमंदों को दुकान दिया जाता रहा है। शव को सुरक्षित रखने के लिए डेड बॉडी फ्रीज़र उपलब्ध कराया गया है। ऐम्बूलेंस (Ambulance) की सुविधा भी जल्द उपलब्ध कराई जायेगी। इन सभी कामों में बिहार सरकार तथा जिला प्रशासन का पूरा पूरा सहयोग प्राप्त है। जिससे अल्पसंखकों में प्रसन्नता पाई जा रही है, और सरकार के प्रति अच्छा संदेश जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*