बिहारी IAS को मिला कश्मीर का पहला डोमिसाइल सर्टिफ़िकेट

Naveen Kumar Chaudhary , IAS

बिहार के IAS अधिकारी नवीन कुमार चौधरी (Naveen Kumar Chaudhary) अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद बाहरी राज्य से आकर जम्मू कश्मीर के स्थायी निवासी बनने वाले देश के पहले व्यक्ति बने। दरभंगा के हायाघाट प्रखण्ड के मझौलिया गांव रहने वाले नवीन कुमार चौधरी जम्मू-कश्मीर ऐग्रिकल्चर डिपार्टमेंट में प्रिंसिपल सेक्रेटरी हैं।

अनुच्छेद 370 का खात्मा आगाज ए कश्मीरी तरक्की

नवीन कुमार चौधरी को जम्मू-कश्मीर का निवास प्रमाण पत्र जारी कर दिया गया है।
दरभंगा के हायाघाट प्रखण्ड के मझौलिया गांव रहने वाले नवीन कुमार चौधरी के पिता का नाम श्री देवकांत चौधरी और माता का नाम वैदेही देवी है।

धारा 370 समाप्‍त, दो केंद्र शासित प्रदेशों में बंटा जम्‍मू-कश्‍मीर

चार भाई और एक बहन में नवीन चौधरी सबसे बड़े हैं। उनकी प्रारंभिक पढ़ाई गांव के मझौलिया मध्य बुनियादी विधायलय में ही हुई।  ललितेश्वर मधुसूदन हाई स्कूल से मैट्रिक पास करने के बाद, उन्होंने पटना विश्वविद्यालय से स्नातक किया। वर्तमान में ऐग्रिकल्चर डिपार्टमेंट में प्रिंसिपल सेक्रेटरी हैं। उन्होंने 1994 बैच के यूपीएससी परीक्षा में छठा स्थान प्राप्त किया था।


गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर डोमिसाइल कानून के तहत 15 साल से रहने वाले नागरिकों को यह सर्टिफिकेट हासिल करने का अधिकार है। 26 साल से वो जम्मू-कश्मीर में अपनी सेवा दे रहे हैं, अब वे वहां के स्थायी नागरिक बन गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*