नीतीश ने क्यों बनाया आरके महाजन को बीपीएससी अध्यक्ष?

बिहार के पूर्व नौकरशाह आरके महाजन को बीपीएससी (Bihar Public Service Commission) का नया चेयरमैन नियुक्त कर दिया गया है. वह शिशिर सिन्हा की जगह लेंगे।

आरके महाजन 1987 बैच के आईएएस अधिकारी थे जो रिटायर होने से पहले बिहार सरकार में कई महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं. सोमवार को बिहार सरकार के सामान्य प्रशाशन विभाग ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है. है. बिहार लोक सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष शिशिर सिन्हा का कार्यकाल 19 जुलाई को समाप्त होने के बाद राज्य सरकार ने आरके महाजन को यह जिम्मेदारी दी है.

नीतीश ने क्यों दी आरके महाजन को बीपीएससी अध्यक्ष की ज़िम्मेदारी ?

आरके महाजन बिहार में काफी अनुभवी आईएएस माने जाते है. वह शिक्षा विभाग के साथ-साथ स्वस्थ्य विभाग में महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारियाँ निभा चुके है. उन्हें एक ऐसे अफसर के तौर पर जाना जाता है जिनकी कार्यक्षमता पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पूरा भरोसा है.

IAS शिशिर सिन्हा को रिटायरमेंट के पहले मिला बड़ा तोहफा, बने BPSC के चेयरमैन

अनुभवी नौकरशाह आरके महाजन को उनकी सेवानिवृति के बाद 1 सितंबर से बीपीएससी का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है. वो आज ही शिक्षा विभाग से अपर मुख्य सचिव के पद से रिटायर हुए हैं.

चर्चा पर लग गयी मुहर

अनुभवी नौकरशाह के बीपीएससी का चेयरमैन बनाये जाने की चर्चा काफी दिन से हो रही थी. याद दिला दें की बिहार लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष शिशिर सिन्हा का कार्यकाल 19 जुलाई को समाप्त हो गया था. उसके बाद शोभेन्द्र कुमार चौधरी को बीपीएससी का प्रभार दिया गया था. वही आरके महाजन को बिहार के विभिन्न विभागों में महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारियाँ निभाने का अनुभव है.

अतिरिक्‍त प्रभार में चल रहा है 25251 करोड़ वाला शिक्षा विभाग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*