इतिहास की अज्ञानता में बिहार की इस मंत्री ने पीएम मोदी को भी छोड़ा पीछे

इतिहास की अज्ञानता में बिहार की इस मंत्री ने पीएम मोदी को भी छोड़ा पीछे

देख कर भी पढ़ना नहीं आया—–

दीपक कुमार ठाकुर
(बिहार ब्यूरो चीफ)

समस्तीपुर: देश आज 71वां गणतंत्र दिवस का जश्न मना रहा है उसी बीच समस्तीपुर से बड़ी खबर सामने आयी है जहां नीतीश कैबिनेट की मंत्री ने देश को शर्मसार करने वाला कारनामा किया है.

नीतीश सरकार में महिला मंत्री को सुन कर आप खुद पर शर्म करेंगे कि कैसे लोग बिहार में मंत्री जैसे बड़े पदों पर बैठे है. दरअसल समस्तीपुर के पटेल मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में झंडोतोलन के मौके पर जिला की प्रभारी मंत्री बीमा भारती ने अपने सम्बोधन में लिखा हुआ स्पीच पढ़ा लेकिन उन्हें ये भी मालूम नहीं की देश का संविधान कब लागू हुआ?

मंत्री ने अपने भाषण में दो बार इसे गलत पढ़ा. 1950 की जगह उन्होंने पहले तो 1985 पढ़ा फिर मंच पर मौजूद लोगों ने जब टोका तो सुधार करते हुए 1955 पढ़ा.मंत्री के दो बार सुधार करने के बाद सही नहीं पढ़ने पर कार्यक्रम में मौजूद लोगों में यह चर्चा शुरू हो गयी कि प्रभारी मंत्री को देख कर भी पढना नहीं आता है.

गौरतलब है कि इतिहास और ऐतिहासिक तथ्यों की अज्ञानता के मामले में देश के प्रधान मंत्री कई बार सोशल मीडिया पर ट्रोल हो चुके हैं . लोग उनके इतिहास की अज्ञानता की आलोचना करते रहे हैं. एक बार प्रधान मंत्री मोदी ने तक्षशिला को बिहार में बता दिया था जबकि तक्षशिला कभी बिहार का हिस्सा नहीं रहा. यह पाकिस्तान के पांजाब में है.

इसी तरह प्रधान मंत्री मोदी ने गांधी जी कान नाम मोहन ला गांधी बताया था जबिक उनका नाम मोहनदास करमचंद गांधी है.

जहां तक नीतीश मंत्रिमंडल की मंत्री बीमा भारती का सवाल है तो उनके बारे में तब भी काफी हंसी मसखरा हुआ था जब उन्होंने पद की शपथ ली थी. उन्हें शपथ पढ़ने में काफी दिक्कत हुई थी. बीमा भारती अवधेश मंडल की पत्नी है जिनकी छवि आपराधिक रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*