बर्ड फ्लू के कारण मुर्गा हुआ सस्ता, बीमारी से कैसे बचें

बर्ड फ्लू के कारण मुर्गा हुआ सस्ता, बीमारी से कैसे बचें

बिहार में भी बर्ड फ्लू की आशंका से मुर्गे का भाव रोज गिर रहा है, पर सवाल है इस बीमारी से कैसे बचें।

कोराना का कहर अभी खत्म नहीं हुआ, लेकिन एक नई बीमारी बर्ड फ्लू की आशंका ने व्यापारियों और आम लोगों को परेशान कर दिया है। मुर्गे की न सिर्फ बिक्री कम हो गई है, बल्कि इसका भाव भी रोज गिर रहा है। पीरमुहानी के मुर्गा व्यापारी अब्दुल रहीम कहते हैं कि मुर्गे का भाव 30 प्रतिशत घटा है। ग्राहक भी कम आ रहे हैं। पहले जहां सौ ग्राहक आते थे, वहीं अब 70 आ रहे हैं।

हो गया ऐलान, 16 जनवरी से शुरू होगा टीकाकरण महा अभियान

मुर्गा व्यापारी पिछले साल भी घाटे का शिकार हुए थे। पटना, नालंदा सहित कई जिलों में बड़ी संख्या में मुर्गों को मारा गया था। इस साल पहले लाकडाउन के कारण दुकानें बंद थीं और अब बर्ड फ्लू की आशंका में बाजार डाउन हो गया है। बर्ड फ्लू के कारण फिलहाल मछली की बिक्री पर कोई असर नहीं हुआ है।

कैसे करें बर्ड फ्लू से बचाव

पीएमसीएच के वरिष्ठ फिजिशियन डा. सुनील अग्रवाल कहते हैं कि बर्ड फ्लू ( bird flu) भी दूसरे फ्लू की तरह ही है।

डा. सुनील अग्रवाल, पीएमसीएच

इसमें भी सर्दी-खांसी-बुखार होता है, लेकिन यह कोरोना से कई गुणा घातक है। इसका वायरस भी फेफड़े को जकड़ लेता है। अच्छा होगा अभी मुर्गा न खाएं।

अगर खाते हैं, तो उसे अच्छी तरह उबालें। किसी भी तरह के पक्षियों से दूर रहें। खासकर बाहर से आनेवाले विदेशी पकियों से दूर रहें। बर्ड फ्लू का वायरस पक्षियों के बीट से फैलता है। अगर छत पर पक्षी आते हों, तो उनके बीट को हाथ न लगाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*