भाजपा देश को गृहयुद्ध की तरफ ले जा रही है : जदयू

भाजपा देश को गृहयुद्ध की तरफ ले जा रही है : जदयू

जदयू ने भाजपा पर बड़ा आरोप लगाया। कहा, धार्मिक उन्माद फैलाकर पहले सत्ता पाई और अब जनता के हितों से खिलवाड़ कर रही है। देश को गृहयुद्ध की तरफ ले जा रही।

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने आज भाजपा पर बड़ा हमला बोला। कहा कि भाजपा ने पहले धार्मिक उन्माद फैला कर सत्ता पर कब्जा किया और अब वह जनता के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है। इसके कारण देश गृहयुद्ध और वर्ग संघर्ष की तरफ बढ़ रहा है।

जनता दल यूनाइटेड के प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने कहा कि बिहार में हाल में होने वाले घटनाक्रम 2024 में केंद्र में सत्ता परिवर्तन की आहट है, भारत की जनता नरेंद्र मोदी एवं भाजपा के झूठे वादों से बेहाल, हताश एवं परेशान है। भारत में बेरोजगारी, गरीबी, अशिक्षा एवं कुपोषण चरम पर है, परंतु इसके बावजूद नरेंद्र मोदी रोज नए-नए झूठे वादे कर देश की जनता को गुमराह करते हैं। धार्मिक उन्माद फैलाकर भाजपा जिस तरह सत्ता पाकर लोगों के हितों से खिलवाड़ कर रही है, इससे देश धीरे-धीरे गृहयुद्ध एवं वर्ग संघर्ष की ओर बढ़ रहा है। इस कारण भारत की जनता के हित में आवश्यक है कि लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता एवं भारतीय संविधान में आस्था रखने वाले सभी पार्टी एकजुट हो केंद्र की भाजपा सरकार को सत्ता के बाहर का रास्ता दिखाएं।

उन्होंने कहा कि केंद्र कि नरेंद्र मोदी सरकार झूठा वादा कर समाज एवं राष्ट्र में भ्रम फैलाने का काम कर रही है, जो देश के साथ बहुत बड़ा धोखा है। नरेंद्र मोदी जो बोलते हैं ठीक उसके उल्टा करते हैं। उन्होंने दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था परंतु केंद्र सरकार की नीतियों के कारण कई रोजगार बंद हो गए एवं रोजगार के अवसरों में सतत कमी आ रही है। सरकारी लाभ अर्जित करने वाले सरकारी उपक्रमों को भी पूंजीपतियों के हाथों बेचा जा रहा है। इससे समाज में आर्थिक विषमता लगातार बढ़ रहे है जो राष्ट्र के विकास में अवरोधक है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि एक ओर जहां सरकार लाभ अर्जित करने वाले लोक उपक्रमों को पूंजी पतियों के हाथों बेच रही है वहीं दूसरी ओर केंद्र ने ओएनजीसी पर दबाव बनाकर गुजरात स्टेट पैट्रोलियम काॅरपोरेशन जो घाटे में चल रही थी एवं जिसकी स्थापना नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए किया था को खरीदने के लिए दबाव डाला। जिस कारण ओएनजीसी जिसे पावर हाउस आॅफ इंडिया के नाम से जाना जाता था की स्थिति दयनीय होती चली गई है, इसके लिए केंद्र सरकार की गलत नीति जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि मोदी जनता के पैसे का दुरुपयोग करते हुए विदेश यात्रा करते रहते हैं, परंतु पिछले 7 साल में सरकार ने कोई भी प्रभावी विदेशी व्यापार संधि नहीं किया है। इतना ही नहीं विश्व राजनीति में भी भारत की स्थिति लगातार कमजोर होती जा रही है, जिसने भारतीय संप्रभुता को भी कठघरे में लाकर खड़ा कर दिया है। भाजपा 56 इंच के सीने की बात तो करती है परंतु वास्तविकता यह है कि भारत, चीन को तिब्बत एवं भूटान में निर्माण कार्य करने से नहीं रोक पा रहा है। हिंद महासागर में स्थित श्री लंका, मालदीव इत्यादि पर भारत की पकड़ ढीली होती जा रही है। श्रीलंका, मालदीव आदि चीन के प्रभाव में आते जा रहे हैं। नरेंद्र मोदी की गलत नीतियों के फलस्वरूप जिस तरह चीन, भारत को चारों ओर से घेर रहा है उसे देखते हुए भविष्य में भारत के चीन का गुलाम होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि मोदी की सरकार आर्थिक नीतियां पूर्ण रूप से विफल रही हैं। भारत सरकार पर 140 लाख करोड़ का ऋण है, मोदी ने भारत की जनता को उनके खाते में 15 लाख रूपये ट्रांसफर करने का झूठा वादा किया थास परंतु इस वायदे को झूठलाते हुए आज सरकार की गलत नीतियों के कारण प्रत्येक भारतीयों पर औसतन एक लाख कर्ज का भार है, इसे भारत की जनता कभी कभी बर्दाश्त नहीं करेगीस भारत सरकार अपने बजट घाटे को कम करने के लिए प्रति वर्ष 15 लाख करोड़ रूपया ऋण ले रही है। इसके अलावा बड़े पैमाने पर सरकारी उपक्रमों को पूंजी पतियों के हाथों बेच रही है। आखिर यह कब तक चलता रहेगा? इससे तो राष्ट्र आर्थिक दिवालियापन के कगार पर पहुंच जाएगा, आज इसे रोकने की सख्त आवश्यकता है।

भारत जोड़ो यात्रा में बीसियों हजार लोग चल रहे पैदल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*