हार से भयभीत भाजपा गठबंधन के लिए दर-दर भटक रही है

बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा की दुखती रग को पहचान लिया है और कहा है कि  बसपा-सपा गठबंधन से वह इतना भयभीत है कि गठबंधन के लिए दर-दर भठक रही है. मायावती ने कहा कि तमिलनाडु, महाराष्ट्र और बिहार में पूरी लाचारी के साथ सहयोगियों के सामने झुक कर गठबंधन करने पर बेबस है.

बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा की दुखती रग को पहचान लिया है और कहा है कि  बसपा-सपा गठबंधन से वह इतना भयभीत है कि गठबंधन के लिए दर-दर भठक रही है. मायावती ने कहा कि तमिलनाडु, महाराष्ट्र और बिहार में पूरी लाचारी के साथ सहयोगियों के सामने झुक कर गठबंधन करने पर बेबस है.

मायावती ने अपने ट्विटर अकाउंट से दो पोस्ट किये और लिखा कि लाचारी में दब कर गठबंधन करना क्या उनके मजबूत नेतृत्व को दर्शाता है?

मायावती ने एक ट्विट में लिखा-“बीजेपी द्धारा लोकसभा चुनाव हेतु पहले बिहार फिर महाराष्ट्र व तमिलनाडु में पूरी लाचारी में दण्डवत होकर गठबंधन करना क्या इनके मज़बूत नेतृत्व को दर्शाता है? वास्तव में बीएसपी-सपा गठबंधन से बीजेपी इतनी ज़्यादा भयभीत है कि इसे अब अपने गठबंधन के लिये दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही है”।

 

गौरतलब है कि बिहार में 30 से ज्यादा सीटों पर 2014 में जीत दर्ज करने वाली भाजपा को जदयू के साथ समझौता करना पड़ा लेकिन उसे मात्र 17 सीटें ही दी गयीं.  इसी तरह तमिलनाडु में उसे महज चंद सीटों के लिए समझौता करना पड़ा.

जबकि महाराष्ट्र में भाजपा ने शिवसेना से चुनावी गठबंधन करने में काफी कुर्बानी दी और शिवसेना के सामने उसे झुकना पड़ा.

मायावती ने एक अन्य ट्विट में लिखा कि भाजपा अब चुनाव के समय में चाहे लाख हाथ-पांव मार ले, इनकी ग़रीब, मज़दूर, किसान व जनविरोधी नीति व इनके अहंकारी रवैये से लगातार दु:खी व त्रस्त, देश की 130 करोड़ जनता इन्हें अब किसी भी क़ीमत पर माफ करने वाली नहीं है।

मायावती ने यहां तक लिखा है कि जनता इनका ( भाजपा) घमण्ड चुनाव में तोड़ेगी व इनकी सरकार जायेगी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*