भाजपा से झूठ बोलने की ट्रेनिंग ले रहा जदयू, पर पकड़ा गया

भाजपा से झूठ बोलने की ट्रेनिंग ले रहा जदयू, पर पकड़ा गया

पुरानी कहावत है संगति का असर होता है। भाजपा के बड़े-बड़े नेता झूठ बोलने के आदी है। अब जदयू पर भी भाजपा की संगति का असर दिखने लगा है। ये पकड़ाया झूठ-

आज जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन लिंह का एक झूठ पकड़ा गया। उन्होंने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें चमचमाती सड़कों को नीतीश राज की देन बताया गया है और लालू राज को दिखाने के लिए जर्जर सड़क दिखाई गई है। वीडियो में दिख रहा है कि सीएनजी ऑटो बेहद खराब सड़क पर हिचकोले खाते जा रहा है।

बड़ा सवाल यह है कि बिहार में पहला सीएनजी ऑटो कब आया? जिसे जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष 16 साल से पहले का बता रहे हैं, वह सीएनजी ऑटो महज दो साल पहले आया है। जिनकी याददाश्त कमजोर हो, वे गूगल करके एक मिनट में जान सकते हैं। पहला सीएनजी ऑटो फरवरी 2019 में आया। इसी समय पटना में दो पेट्रोल पंप पर सीएनजी सप्लाई शुरू हुई। एक बाइपास सड़क पर और दूसरा रुकुनपुरा में। 2018, 2017 में तो सीएनजी ऑटो को पटनावालों ने देखा ही नहीं था। शेष बिहार की बात ही छोड़ दीजिए।

इस तरह अपनी बदहाली को लालू राज के नाम पर चला देने की कोशिश हुई। नॉकरशाही डॉट कॉम के एडिटर इन चीफ इर्शादुल हक ने वीडियो के उस हिस्से को स्क्रीन शॉट लेकर लिखा-भाजपाई झूठ का नशा अब @Jduonline के नेताओं के सर पर चढ़ चुका है। मंत्री @LalanSingh_1 ने एक वीडियो जारी कर लालूराज की 17 साल पुरानी सड़क बताया है। उनसे कोई पूछे कि 17 साल पहले नीतीश के दौर का हरे रंग का CNG टेम्पू कहां से आया? यह तो नीतीश राज की फ़ोटो है।

कुछ ही दिन पहले भाजपा ने अपने झूठ से देश की अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती कराई है। प्रधानमंत्री मोदी ने नोएडा में एक एयरपोर्ट का शिलान्यास किया। भाजपा के बड़े नेताओं, केंद्रीय मंत्रियों ने इसके मॉडल की जगह चीन के बीजिंग एयरपोर्ट का फोटो शेयर कर दिया। इस पर भारत ही नहीं, दूसरे देशों में भी खिल्ली उड़ाई गई। भाजपा शासित यूपी के विकास को दिखाने के लिए कभी कोलकाता का फ्लाई ओवर दिखाया जाता है, कभी आंध्र की बांध का। नौकरशाही डॉट कॉम ने इस बात की जांच नहीं की है कि ललन सिंह ने जिन चमचमाती सड़कों को नीतीश राज की देन बताया है, वह सचमुच बिहार की ही हैं या नहीं।

SaatRang : क्या मोदी जी ऐसी हिम्मत दिखा सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*