बुल्ली बाई एप केस : विशाल, श्वेता के बाद तीसरा गिरफ्तार

बुल्ली बाई एप केस : विशाल, श्वेता के बाद तीसरा गिरफ्तार

मुस्लिम महिलाओं की ऑनलाइन नीलामी मामले में आज मुंबई पुलिस ने विशाल झा, श्वेता सिंह के बाद एक तीसरे युवा को गिरफ्तार किया।

बुल्ली बाई एप बनाकर मुस्लिम महिलाओं की ऑनलाइन नीलामी मामले में मुंबई पुलिस ने आज तीसरे युवक को गिरफ्तार किया। यह गिरफ्तारी भी उत्तराखंड से ही हुई।

मुंबई पुलिस कमिश्नर हेमंत नागराले ने बताया कि बुल्ली बाई एप केस में 21 साल के विशाल झा, 19 साल की श्वेता सिंह के बाद पुलिस ने तीसरे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। इसका नाम मयंक रावल है। इसकी उम्र 21 साल है।

बुल्ली एप के जरिये ये नफरती गिरोह मुस्लिम महिलाओं की तस्वीर डाल कर ऑनलाइन नीलामी करता था। यहां ध्यान देनेवाली बात यह है कि उन्हीं मुस्लिम महिलाओं को निशाना बनाया गया, जो भाजपा सरकारों, केंद्र की मोदी सरकार और नफरती हिंदुत्व के खिलाफ आवाज उठाती रही हैं। इनमें मुस्लिम महिला पत्रकार, मानवाधिकार कार्यकर्ता भी शामिल हैं।

मुंबई पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि इन लोगों ने एप के नाम के साथ खालसा शब्द क्यों जोड़ा। लोगों की मांग है कि मुंबई पुलिस केस की गहराई में जाकर पता करे कि क्या यह सिर्फ कुछ सिरफिरे धर्मांध युवकों की करतूत है या इसके पीछे कोई गहरी और बड़ी साजिश है, जिसमें अन्य शक्तिशाली लोग भी शामिल हैं। इस केस में जिस तरह मुंबई पुलिस ने कार्रवाई की है, उससे उसकी प्रतिष्ठा बढ़ी है। वहीं उत्तराखंड के डीजीपी श्वेता के बचाव में दिख रहे हैं। वे बता रहे हैं कि श्वेता के पिता नहीं हैं, वह गरीब बै और संभव है उसने पैसों के लिए यह सब किया हो। तब भी यह सवाल तो उत्तराखंड पुलिस से बनता ही है कि पैसा देनेवाले कौन लोग थे? सभी गिरफ्तारियां भाजपा शासित राज्यों से हुई हैं। इसके पीछे क्या वजह हो सकती है?

नेपाल सीमा पर आदापुर में शराब माफिया पर गिरी गाज, बोतलें जब्त

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*