CAB प्रदर्शन: इसराइल, यूके,अमेरिका फ्रांस ने अपने नागरिकों को चेताया

CAB प्रदर्शन इसराइल, यूके, अमेरिका ने अपने नागरिकों को चेताया

CAB protest

CAB प्रदर्शन इसराइल, यूके, अमेरिका ने अपने नागरिकों को चेताया

नागरिकता संशोधन बिल पर देशव्यापी प्रदर्शन से सचेत अमेरिका, इंग्लैंड और इसराइल ने अपने नागरिकों को चेतावनी जारी की है.

उधर प्रधानमंत्री मोदी के संग होने वाली मीटिंग को जापान के प्रधान मंत्री शिंजे आबे ने स्थगित कर दिया है. भारत के पूर्व उत्तर के राज्यों में हिंसक प्रदर्शन का असर गृहमंत्री अमित शाह की त्रिपुरा यात्रा पर भी पड़ा है. उन्होंने वहां प्रस्तावित कार्यक्रम रद्द कर दिया है.

इंग्लैंड के कॉमन वेल्थ आफिस से जारी एववाइजरी में कहा गया है कि भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों की यात्रा में एहत्यात बरतें. वहां के स्थानीय मीडिया पर ध्यान रखें.B

चार देशों की चेतावनी

इंग्लैंड ने अपने नागरिकों से कहा है कि वे जम्मु कश्मीर की यात्रा से भी परहेज करें.

गौरतलब है कि असम और त्रिपुरा में पुलिस गोलीबारी से 3 लोगों की मौत हो गयी थी और बड़े पैमाने पर हिंसा व आगजनी हुई थी.

 

यह भी पढ़ें- सुनो 20 करोड़ मुसलमानो! वादा करो हम NRC में नाम दर्ज नहीं करायेंगे, 

इसी तरह अमेरिका ने अपने नागरिकों से कहा है कि वे भारत की यात्रा के दौरान विशेष सावधानी बरतें. अमेरिकी सरकार ने इस बीच असम की तमाम आधिकारिक दौरों को स्थगित कर दिया है.

 

इसी तरह फ्रांस और इजराइल की सरकारो ने भी अपने नागरिकों से अपील की है कि वे भारत की यात्रा के दौरान खास सावधानी रखें.

काबिले जिक्र है कि पिछले 11 दिसम्बर को संसद ने नागरिकता संशोधन बिल को मंजूरी दी थी. इस बिल के अनुसार पाकिस्तान, आफगानिस्तान और बांग्लादेश के हिंदुओ, सिखों, ईसाइयों, जैन, पारसी और बौद्धों को भारत आने पर नागरिकता प्रदान करने की बात कही गयी है जबकि इस बिल में मुसलमानों को स्थान नहीं दिया गया है.

इस बिल के अलावा एनआरसी यानी राष्ट्रीय नागिरक पंजी तैयार करने की बात कही गयी है. राजद समेत तमाम विपक्षी दलों ने एनआरसी का बायकाट करने का फैसला किया है. उधर बिहार में राजद ने 21 दिसम्बर को बंद का ऐलान किया है.

पश्चिम बंगाल में भी प्रदर्शन की खबर है और आंदोलन हिंसक होने की खबरें हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*