OTHER’S VOICE

सियासत मुफलिसी पर इस तरह अहसान करती है..

छत्तीसगढ़ में जो हुआ वह  चौंकाने वाला है पांच घंटे के अंदर 83 ऑपरेशन यह समझने के लिये काफी हैं कि ऑपरेशन थिएटर में सुविधा कैसी रही होगी?    पढ़ें  वसीम  अकरम त्यागी की विवेचना- बिलासपुर (छत्तीसगढ़ ) में हुऐ नसबंदी संबंधित हादसे में अब तक 13 महिलाओं की मौत हो चुकी है। इनमें अधिकतर महिलाऐं दलित, आदीवासी, और बेहद ...

Read More »

अत्‍यंत पिछड़ी जाति में शामिल हुई ‘अवध बनिया’

राज्‍य सरकार अत्‍यंत पिछड़ी जातियों पर अपनी पकड़ मजबूत बनाए रखना चाहती है और इसके लिए वैधानिक प्रतिमानों का भी इस्‍तेमाल कर रही है। इसी सिलसिले में अति पिछड़ी जातियों की जनसंख्‍या बढ़ाने के लिए सरकार ने पिछड़ी जाति में शामिल ‘अवध बनिया’ को अत्‍यंत पिछड़ी जाति में शामिल कर लिया है। इसके लिए सामान्‍य प्रशासन विभाग ने अधिसूचना भी ...

Read More »

मोदी सरकार में 12 मंत्री ब्राह्मण कंफर्म, गिनती जारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव प्रचार के दौरान कहा था कि भाजपा सिर्फ ब्राह्मण-बनियों की पार्टी नहीं है। लेकिन सत्‍ता संभालते ही उन्‍होंने स्‍पष्‍ट कर दिया कि भाजपा सरकार में ब्राह्मण फर्स्‍ट। बिहार विधानमंडल दल के नेता सुशील कुमार मोदी ने आज जनता दरबार के बाद पत्रकारों से चर्चा में नरेंद्र मोदी सरकार के सामाजिक संतुलन व भागीदारी की बात ...

Read More »

आठ में से चार मंत्री सवर्ण, महादलित व अतिपिछड़ों का नाम लेवा नहीं

नरेंद्र मोदी सरकार के विस्‍तार के बाद भाजपा ने अपनी जातीय प्राथमिकता तय कर दी है। पार्टी ने तय कर दिया है कि बहुसंख्‍यक व सामाजिक रूप से मजबूत जातीयों के भरोसे ही उसे विधानसभा चुनाव की वैतरणी पार करनी है। कैबिनेट विस्‍तार के बाद मोदी सरकार में बिहार से मंत्रियों की संख्‍या आठ हो गयी है। इनमें से कोई ...

Read More »

डीएसपी ममता को थोड़ी राहत, होगी फिर सुनवाई

पटना की डीएसपी विधि-व्यवस्था ममता कल्याणी ने आखिरकार चैन की सांस ले ली. अब उन्हें कोर्ट के अवमानना के मामले में राहत मिल गयी है. गौरतल है कि ममता के खिलाफ पटना हाई कोर्ट की ए. अमानुल्लाह की एकल पीठ ने अवमानना का दोषी ठहरा रखा है लेकिन बाद में इस मामले में जब उन्होंने याचिका दायर की तो उस ...

Read More »

उद्योग विभाग ने अक्टूबर में खर्च किये 400 करोड़? मंत्री ने साधी चुप्पी

बिहार सरकार के उद्योग विभाग को क्या हो गया है? क्या उसके काम करने वाले हाथों में पंख लग गये हैं? साल भर कछुए की चाल चलने वाला विभाग अचानक हिरन की गति से क्यों दौड़ने लगा है? इर्शादुल हक, सम्पादक नौकरशाही डॉट इन यूं तो सरकार अपनी रफ्तार से काम करती है. लेकिन आम तौर पर देखा जाता है ...

Read More »

मोदी का ज्ञान और आधुनिक विज्ञान

शबनम हाशमी मोदी के ज्ञान और उनकी अवधारणा पर टिप्पणी करते हुए उनकी सोच पर सवाल खड़े कर रही हैं. कम पढ़े लिखे गरीब चाय बिक्रेता से लेकर प्रधानमन्त्री के शिखर तक का सफर तय करने वाले श्री नरेंद्र मोदी से किसी भी आम व्यक्ति की सहानुभूति होना लाजिमी है. बहरहाल, इस कुर्सी पर बैठकर ज्ञान-विज्ञान के बारे में उपदेश ...

Read More »

लंदन के फायनेनशियल टाइम्स को खरीदने के फिराक में अंबानी

अगर यह सौदा तय हो गय तो निश्चित तौर पर मुकेश अंबानी दूसरे रोपर्ट मर्डोक बनने की ओर अग्रसर माने जायेंगे. खबर है कि  अम्बानी अब लंदन के विख्यात अखबार फायनेंशिय टाइम्स को खरीदने वाले हैं.   बिजनेस स्‍टैंडर्ड की खबर के मुताबिक द टाइम्‍स में प्रकाशित एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि  रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक ...

Read More »

भूमिहार को ‘पोसुआ’ ना समझे भाजपा

भाजपा खेमे में भूमिहार फैक्‍टर हावी होने लगा है। पिछले दिनों श्रीकृष्‍ण सिंह की जयंती समारोह में और आज कैलाशपति मिश्र की पुण्‍यतिथि के मौके पर आयोजित नमन कार्यक्रम में भूमिहार सरोकार मुखर रूप से दिखा। इसे बेगूसराय के सांसद भोला सिंह के संबोधन से समझा जा सकता है। उन्‍होंने कहा कि भाजपा भूमिहार को पोसुआ (पाला हुआ) न समझे। ...

Read More »

नायक नहीं, खलनायक है तू

अहमद बुखारी की इमामत के 14 वर्ष के इतिहास को खंगालते हुए हमारे सम्पादक इर्शादुल हक उनके व्यक्तित्व में छुपे खलनायक को उजागर करते हुए बता रहे हैं कि वह कैसे मुसलमानों के लिए नासूर बन चुके हैं.   अपने छोटे बेटे शाबान बुखारी को नायब इमाम घोषित करने वालेय दस्तारबंदी कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी को आमंत्रित नहीं कर ...

Read More »