छपरा में RJD नेता सुनील राय का अपहरण, पुलिस ने बनाई SIT

छपरा में RJD नेता सुनील राय का अपहरण, पुलिस ने बनाई SIT

छपरा में RJD नेता सुनील राय का हथियार के बल पर अपराधियों ने किया अपहरण। अपहरण सुबह 4 बजे किया गया। पुलिस ने बनाई SIT। ताबड़तोड़ की जा रही छापेमारी।

बिहार के छपरा में मंगलवार सुबह चार बजे अपराधियों ने हथियार के बल पर राजद नेता सुनील राय का अपहरण कर लिया। अपहरण की घटना सुबह चार बजे छपरा के साढ़ा इलाके में हुई। घटना सीसीटीवी कैमरे में आ गई है, जिसमें दिख रहा है कि अपराधी राजद नेता को जबरन ले जा रहे हैं। खबर जंगल में आग की तरह फैली। सुनील राय राजद के सक्रिय नेता हैं। वे पहले चुनाव भी लड़ चुके हैं। सारण पुलिस ने राजद नेता की सकुशल बरामदगी के लिए तेज-तर्रार पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया है। पुलिस की विशेष टीम कई स्थानों पर छापेमारी कर चुकी है।

सारण पुलिस के लिए राजद नेता सुनील राय की सकुशल बरामदगी चुनौती के समान है। पुलिस कई एंगल से जांच कर रही है। पुलिस इस सवाल का जवाब भी ढूंढ़ रही है कि आखिर इतनी सुबह राजद नेता घर से क्यों निकले। क्या उन्हें किसी ने बुलाया था। घटना से स्पष्ट है कि अपराधियों को मालूम था कि सुनील राय आने वाले हैं। इसलिए वे पहले से घात लगाकर बैठे थे।

सारण पुलिस को सुनील राय का मोबाइल फोन मिल गया है। लगता है अपराधियों ने अपहरण के बाद उनका मोबाइल फेंक दिया था। मोबाइल क्षतिग्रस्त हालत में मिला है। पुलिस उससे कॉल डिटेल निकालने का प्रयास कर रही है, ताकि मालूम हो सके कि अपहरण से पहले उनकी किससे बात हुई थी।

छपरा पुलिस ने कहा-प्राप्त सूचना अनुसार सुनील राय, पिता रामबालक राय, सा- साढा, थाना- मुफ्फसिल, जिला-सारण को आज सुबह अज्ञात अपराधियों द्वारा अपहरण किया गया है । अपहृत व्यक्ति राष्ट्रीय जनता दल के कार्यकर्ता बताए जाते हैं। पुलिस को सूचना प्राप्त होते ही इसमें एक SIT का गठन किया गया है, जो घटना स्थल का पास CCTV आदि साक्षियों का गहन अध्ययन कर अपहृत की बरामदगी हेतु प्रयासरत है।

सोशल मीडिया पर सीसीटीवी कैमरे का वीडियो पायरल है। कई लोगों ने लिखा है कि सुनील राय विधायक हैं, जबकि वे विधायक नहीं हैं।

हंसी-हंसी में खड़गे ऐसा बोले कि भाजपा हुई पानी-पानी, सदन में ठहाके