चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने अपने विरोधी जस्टिस गगोई को ही चुना अपना उतराधिकारी

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने अपने विरोधी रहे  जस्टिस गोगोई को ही अगला चीफ जस्टिस नियुक्त करने की सिफारिश की है.

जस्टिस दीपक मिश्रा

जस्टिस दीपक मिश्रा ने चुना जस्टिस गगोई को अपना उत्तराधिकारी

  सुप्रीम कोर्ट के Chief Justice ने कानून मंत्रालय को इस संबंधी सिफारिश भेज दी है. यह जस्टिस गगोई ही थे जिन्होंने 12 जनवरी को चीफ जस्टिस के खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस करके अपने अधिकारों का बेजा इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था.
 मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने जस्टिस गोगोई को अगला चीफ जस्टिस बनाने की सिफारिश कानून मंत्रालय को भेज दी है.
Chief Justice दीपक मिश्रा और भारतीय न्यायपालिका के लिए 12 जनवरी का दिन सबसे चुनौतिपूर्ण माना जाता है जब अन्य जजों ने उन के खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस करके यह आरोप लगाया था कि केस आवंटन में मास्टर ऑफ द रोस्टर के अधिकार का चीफ जस्टिस दुरुपयोग कर रहे हैं. यह घटना भारतीय न्यायपालिका के इतिहास में पहली घटना थी जब अपने ही चीफ जस्टिस के खिलाफ अन्य जज सार्वजनिक तौर पर खड़े हो गये थे. इससे माना गया था कि चीफ जस्टिस और उन जजों के बीच शायद ही कभी सुलह हो पायेगी. लेकिन चीफ जस्टिस ने अपनी बडप्पन का परिचय देते हुए उन्हीं जजों में से एक को सुप्रीम कोर्ट का अगला मुख्यन्यायधीश बनाने की सिफारिश कानून मंत्रालय को भेज दी है.
गत 12 जनवरी को चीफ जस्टिस के खिलाफ हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिस गोगोई भी शामिल थे। इन्होंने आरोप लगाया था कि केस आवंटन में मास्टर ऑफ द रोस्टर के अधिकार का चीफ जस्टिस दुरुपयोग कर रहे हैं। चीफ जस्टिस मिश्रा 2 अक्टूबर को रिटायर हो रहे हैं। केंद्र ने अगर सिफारिश मंजूर की तो जस्टिस गोगोई 3 अक्टूबर को शपथ लेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*