चुनाव आयोग के अधिकारियों पर चले हत्या का मुकदमा : हाईकोर्ट

चुनाव आयोग के अधिकारियों पर चले हत्या का मुकदमा : हाईकोर्ट

विदेशी मीडिया मोदी को, देशी मीडिया सिस्टम को और अब मद्रास हाईकोर्ट ने कोरोना की दूसरी लहर के लिए चुनाव आयोग को जिम्मेवार माना है। कहा, रोक देंगे रिजल्ट।

आज मद्रास हाईकोर्ट ने अब तक की सबसे कड़ी टिप्पणी करते हुए कोरोना की दूसरी लहर के लिए पूरी तरह चुनाव आयोग को जिम्मेवार माना है। कोर्ट ने बेहद तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा- चुनाव आयोग के अधिकारियों पर हत्या का मुकदमा चलना चाहिए।

जस्टिस संजीब बनर्जी ने कहा कि चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को रैली करने की इजाजत क्यों दी? जिन पांच राज्यों में चुनाव आयोग ने चुनाव कराया और रैली की इजाजत दी, वहां अब कोरोना कहर बरपा रहा है।

कोरोना संक्रमित पत्नी को जबह किया फिर कर ली खुदकुशी

हाइकोर्ट ने यहां तक कहा कि मतगणना की क्या तैयारी है, इसकी जानकारी दें, वरना कोर्ट मतगणना पर रोक लगा देगा। कोर्ट ने कहा कि चुनाव आयोग कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने में पूरी तरह विफल रहा हाईकोर्ट ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के लिए पूरी तरह चुनाव आयोग ही जिम्मेदार है।

हाईकोर्ट ने कहा-जन स्वास्थ्य सर्वाधिक महत्वपूर्ण है। यह अफसोसजनक है कि संवैधानिक संस्था को इस तरह से आगाह करना पड़ रहा है। अगर देश का नागरिक जीवित बचेगा, तभी तो वह जनतांत्रिक गणतंत्र में प्राप्त अपने अधिकारों का उपयोग कर पाएगा।

चीफ जस्टिस ने कहा, आज जीवन पर संकट है। कोई भी चीज इसके बाद ही आती है। हाईकोर्ट चुनाव आयोग को आदेश देता है कि वह मतगणना के दिन के लिए कोविड प्रोटोकॉल का पूरा प्लान पेश करे। इसके लिए वह राज्य स्वास्थ्य सचिव से बात करके प्लान तैयार करे।

उधर, विदेशी मीडिया में भारत छाया हुआ है। पहले अमेरिकी अखबारों में भारत के समाचार कभी-कभार ही छपते थे, लेकिन जबसे कोविड के मामले तीन लाख से ऊपर गए हैं, रोज वहां के अखबारों में भारत की दर्दशा की खबरें छप रही हैं। विदेशी मीडिया पूरी तरह प्रधानमंत्री मोदी को जिम्मेवार मान रहा है कि वे तैयारी करने के बजाय चुनावी रैली करते रहे। भारतीय मीडिया सिस्टम को दोषी मान रहा है और उसके अनुसार राज्य सरकारें ठीक से काम नहीं कर रही हैं।

हाईकोर्ट की टिप्पणी के बाद अब देखना है कि चुनाव आयोग क्या कहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*