चुनाव में इन आईएएस-आईपीएस अधिकारियों ने कर दिया कमाल

चुनाव में इन आईएएस-आईपीएस अधिकारियों ने कर दिया कमाल

कोरोना काल में सफलतापूर्वक विधानसभा चुनाव संपन्न कराने के लिए बिहार को बेस्ट इलेक्शन मैनेजमेंट अवार्ड मिला है। इसके पीछे इन अधिकारियों का कमाल है।

बिहार विधानसभा चुनाव में कई आईएएस और आईपीएस अधिकारियों की मेहनत और बेहतर चुनाव प्रबंधन ने कमाल कर दिया। अब उन्हें विभिन्न श्रेणी के अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। बिहार को बेस्ट इलेक्शन मैनेजमेट अवार्ड मिला है। गणतंत्र दिवस से पहले 25 जनवरी को नई दिल्ली में बिहार के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास यह पुरस्कार ग्रहण करेंगे।

इसके साथ ही चुनाव में विभिन्न श्रेणी में बेहतर प्रदर्शन करनेवाले पदाधिकारियों के नाम की भी घोषणा की गई। पटना जिला के तत्कालीन निर्वाचन पदाधिकारी रहे कुमार रवि और कैमूर के निर्वाचन पदाधिकारी नवल किशोर चौधरी का चयन सर्वश्रेष्ठ जिला निर्वाचन पदाधिकारी श्रेणी में किया गया है।

निर्वाचन में बेहतर सुरक्षा प्रबंध के लिए एडीजी पुलिस मुख्यालय जितेंद्र कुमार का चयन किया गया है। सुरक्षा प्रबंधन के लिए ही पुलिस महानिरीक्षक, पूर्णिया रहे स्व. विनेद कुमार को मरणोपरांत पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की गई है। चुनाव में बेहतर सुरक्षा प्रबंधन के लिए पूर्णिया के पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा को बेस्ट एसपी, स्वास्थ्य विभाग की सक्रिय सहभागिता के लिए इस विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत को विशेष पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।

रुपेश हत्या: IAS को लपेटने पर सुशासन माफिया पर बरसे पूर्व IPS

मतदाता जागरूकता गतिविधियों में प्रभावी भूमिका के लिए जीविका का चयन सीएसओ श्रेणी में किया गया है। ये सारे पुरस्कार 11 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर दिए जाएंगे। कार्यक्रम नई दिल्ली में होगा। मतदाता दिवस का नारा है-सभी मतदाता बनें सशक्त, सतर्क, सुरक्षित और जागरूक। विधानसभा चुनाव सफलतापूर्वक कराने के बाद राज्य प्रशासन के समक्ष आगामी पंचायत चुनाव कराना भी कम चुनौतीपूर्ण नहीं है। पंचायत चुनाव इसी साल अप्रैल महीने में होंगे। नामांकन से लेकर मतदाताओं के बूथ तक पहुंचने और फिर मतों की गिनती तक विशेष इंतजाम करने होंगे।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*