कांग्रेस और लोजपा के घोषणा-पत्र में क्या क्या है ?

कांग्रेस और लोजपा के घोषणा-पत्र में क्या क्या है ?

लोक जनशक्ति पार्टी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने आज अपना घोषणापत्र जारी किया.

बिहार चुनाव के महासंग्राम में सियासी पार्टियों ने वादों कि झड़ी लगा दी है. आज भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) और लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने अपना चुनावी घोषणा-पत्र जारी किया है.

बिहार विधान सभा चुनाव 2020 के पहले चरण कि वोटिंग 28 अक्टूबर को होगी. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) पहले ही घोषणा-पत्र जारी कर चुकी है जिसमें 10 लाख बेरोजगारों को नौकरी, संविदा शिक्षकों को नियमित करने और बिहार में कृषि बिल को ख़ारिज करने समेत अनेक वादे किये गए हैं. इसके आलावा हाल ही में महागठबंधन के सभी दलों ने साझा घोषणा-पत्र भी जारी किया था.

एक नज़र डालते हैं कांग्रेस और लोजपा के घोषणा-पत्र पर.

कांग्रेस का घोषणा-पत्र – सुविधा और सहायता पर जोर

बिहार चुनाव में महागठबंधन के तहत राजद, कांग्रेस और वाम दल हैं. इस बार कांग्रेस को 70 सीटें मिलीं हैं. कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणा-पत्र में किसान, महिला शिक्षा, खेलों एवं खिलाडियों को प्रोत्साहन समेत स्वस्थ्य एवं स्वच्छ पेयजल सुविधायों जैसे वादे किये गए हैं.

किसानों कि क़र्ज़ माफ़ी.

बिजली बिल आधी कि जाएगी और गरीबों का बिजली बिल माफ़ किया जायेगा.

बेरोजगार युवाओं को 1500 रूपये मासिक भत्ता

बिहार में कृषि कानून को ख़ारिज किया जायेगा.

सरदार पटेल पेयजल योजना के तहत बिहार के लोगों को पानी का अधिकार दिया जायेगा.

राजीव गाँधी कृषि न्याय योजना के तहत दो एकड़ से कम ज़मीन वाले किसानों को डायरेक्ट मनी ट्रान्सफर के ज़रिये आर्थिक सहायता दी जाएगी.

लड़कियों को केजी से लेकर पीजी तक मुफ्त शिक्षा दी जाएगी.

डॉ राजेंद्र प्रसाद वृद्ध सम्मान योजना के तहत वृद्ध विधवाओं और एकल महिलाओं को आर्थिक सहायता दी जाएगी. मासिक पेंशन 800 रूपये दी जाएगी एवं 80 साल से अधिक के बुज़ुर्ग पुरुष एवं महिलाओं को 1000 रूपये प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी.

श्री कृष्ण सिंह खिलाडी प्रोत्साहन योजना के तहत पांचवी से बारहवीं तक के बच्चों को खेलों में प्रोत्साहन दिया जायेगा. पदक लाने वाले खिलाडियों को बिना इंटरव्यू के नौकरी दी जाएगी.

इंदिरा गाँधी कन्या योजना के तहत लड़कियों कि शादी के लिए 21000 रूपये कि आर्थिक मदद दी जाएगी.

राजीव गाँधी रोजगार मित्र योजना के तहत रोज़गार मित्र बहाल किये जायेंगे.

लोजपा का घोषणा-पत्र – युवा और दलित कल्याण पर जोर


बिहार विधानसभा चुनाव के लिए लोजपा ने भी घोषणा-पत्र जारी किया। बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट के तहत लोजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने बिहार को कोचिंग सिटी के तौर पर विकसित करने समेत युवा एवं दलित कल्याण के लिए अनेक वादे किये हैं.

बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट के लागू होने से सभी महिलाओं को मुफ्त में बस यात्रा की सुविधा मिलेगी।

समान काम समान वेतन का वादा

सभी विभागों के अनुमोदित व स्वीकृत पदों में शीघ्र बहाली

अत्याधुनिक कैंसर संस्थानों की स्थापना का वादा

बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट युवा आयोग का गठन का वादा

माता सीता का भव्य मंदिर निर्माण का वादा

अनुसूचित जाति-जनजाति छात्रावास को वाई-फाई, लाइब्रेरी, मेस, खेलकूद सामग्री, व सुरक्षा गार्ड के साथ आधुनिक बनाने का वादा

महागठबंधन का घोषणा पत्र – रोज़गार, पलायन एवं किसान कल्याण पर जोर


बिहार विधानसभा चुनाव के लिए महागठबंधन ने भी साझा घोषणा-पत्र जारी किया है. इसे बदलाव के संकल्प पत्र का नाम दिया है। आरजेडी के साथ-साथ कांग्रेस और वाम दलों में सरकार गठन के बाद बिहार के लिए जो प्राथमिकताएं तय की है उसका जिक्र इस घोषणापत्र में किया गया है।  

पहली कैबिनेट में दस लाख नौजवानों को रोजगार 

परीक्षा के लिए भरे जाने वाले आवेदन फार्म पर फीस माफ 

परीक्षा केंद्रों तक जाने का किराया सरकार देगी

पलायन रोकने के लिए करेंगे काम 

शिक्षकों के लिए समान काम समान वेतन का वादा

जीविका दीदियों का मानदेय दोगुना करने का वादा 

बिहार में कृषि बिल को ख़ारिज किया जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*