‘सुशासन के दुशासन ने किया 24 हजार करोड़ का घोटाला’

कांग्रेस नेता ललन कुमार अखिल भारतीय युवा कांग्रेस बिहार इकाई के पूर्व अध्यक्ष सह फिल्म सेंसर बोर्ड परामर्श दाती समिति भारत सरकार के पूर्व सदस्य ललन कुमार ने आज पत्रकारों से बात करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी पर 24524 करोड़ के घोटाले का आरोप लगा दिया.

ललन कुमार ने कहा कि सुशासन और दुशासन नितीश कुमार और सुशील मोदी की जोड़ी ने बेशर्मी की सभी हदें पार करते हुए जल जीवन हरियाली नाम की ऐसी योजना बनाई जिसका वास्तिवकता से कोई वास्ता ही नहीं है.

सुशासन और दुशासन की जोड़ी ने पूरा रूपया गटक लिया और किसी को भनक भी नहीं लगने दी. ललन कुमार ने योजना को किए ये खुलासे- उन्होंने कहा कि जजह योजना के नाम पर 2019-2022 के बीच 24524 करोड़ खर्च होने थे, बीते दो सालों में क्या काम हुआ वो जमीन पर किसी को दिखाई ही नहीं दे रहा है. बिना कोई काम कराए सब गोलमाल कर लिया गया.

कांग्रेस नेता ने कहा कि डबल इंजन की सरकार का दावा करने के बाद आज उपमुख्यमंत्री कह रहे हैं कि दूसरे राज्य में फसे लोगों को लाने के लिए सरकार के पास संसाधन नहीं है ये बेहद शर्मनाक है. ललन ने कहा कि जजह योजना के अलावा मनरेगा के तहत पिछले दो सालों में एक करोड़ पौधे लगवाने का दावा करने वाले ये बताएं कि कितने पौधे कहां-कहां लगे हैं.

युवा कांग्रेस नेता ललन कुमार ने कहा कि बिहार की स्वास्थ्य सेवा का ये हाल है कि कमिश्नरी स्तर के पूर्णिया सदर अस्पताल में न एक्सरे सेंटर, न अल्ट्रासाउंड सेंटर और न ही इमेजिंग सेंटर है. कोरोना संक्रमितो के सैंपल को दरभंगा भेजकर तीन दिनों तक रिपोर्ट का इंतेजार किया जा रहा है. क्वारंटाइन सेंटर की हालत ये है कि वहां न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो पा रहा है और न ही वहां रह रहे लोगों को पौष्टिक आहार मिल पा रहा है.

ललन कुमार ने सरकार से मांग की है कि जल्द से जल्द दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को वापस लाने के लिए काम करे और गरीबों की मदद करे. उन्होंने कहा कि सुशासन और दुशासन की जोड़ी को बिहार की जनता इस बार चुनाव में सबक सिखा कर रहेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*